एम्सटर्डम से दिल्ली आ रही थी फ्लाइट, भारत ने नहीं दी लैंडिंग की इजाजत तो लिया यू-टर्न

महामारी का रुप धारण कर चुके कोरोना वायरस (Coronavirus) से पूरी दुनिया में दहशत है। 160 से ज्यादा देश इसकी चपेट में आ चुके हैं। रिपोर्ट्स के अनुसार, 11 हजार से अधिक लोगों की इस बीमारी से मौत हो चुकी है। भारत भी इससे अछूता नहीं है। इस वायरस की वजह से देश में अभी तक चार लोगों की मौत हो चुकी है तथा 250 से ज्यादा लोगों में इस संक्रमण की पुष्टि हुई है। संक्रमण के मामले बढ़ते जा रहे हैं. केंद्र व सभी राज्य सरकारें सुरक्षा के लिहाज से हर संभव कदम उठा रही हैं. इस वायरस के फैलने के ज्यादातर मामले विदेशों से आने वाले लोगों से जुड़े हैं. एहतियातन भारत ने सभी विदेशी एयरलाइन्स की देश में लैंडिंग पर बैन लगा दिया है. एम्सटर्डम से दिल्ली (Amsterdam-Delhi Flight) आ रहे एक विमान को देश में लैंड करने की इजाजत नहीं दी गई, जिसके बाद विमान ने यू-टर्न ले लिया।

प्राप्त जानकारी के अनुसार, बीते शुक्रवार केएलएम रॉयल डच एयरलाइन्स का विमान (KL0871) एम्सटर्डम से दिल्ली आ रहा था. विमान में 90 भारतीय भी सवार थे. विमान को दिल्ली में लैंड करने की इजाजत नहीं दी गई, जिसके बाद प्लेन एम्सटर्डम वापस लौट गया। DGCA के अधिकारियों की ओर से बताया जा रहा है कि विमान के पास अप्रूव्ड फ्लाइट प्लान नहीं था। सूत्रों ने बताया कि किसी भी एयरलाइन्स को दूसरे देश में लैंडिंग के लिए प्लान फाइल करना होता है और इसे अप्रूव कराना होता है। भारत ने यूरोपीय संघ देशों से आने वाले विमानों की लैंडिंग पर 18 मार्च से बैन लगा दिया है। सूत्रों के अनुसार, केएलएम रॉयल डच एयरलाइन्स ने इस उड़ान को स्वीकृति देकर दिशा-निर्देशों का उल्लंघन किया है।

यूरोपीय संघ देशों में कोरोना वायरस के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। इसे देखते हुए एहतियातन इस हफ्ते की शुरूआत में भारत ने ट्रैवल बैन लगा दिया था। यह भी बता दें कि रविवार से एक हफ्ते के लिए किसी भी अंतरराष्ट्रीय विमान को भारत में उतरने की इजाजत नहीं है। यह आदेश 29 मार्च तक जारी रहेगा। इटली की बात करें तो वहां इस वायरस की वजह से सबसे ज्यादा मौतें (3407) हुई हैं। चीन में अभी तक 3254 लोगों की मौत हो चुकी है। करीब तीन महीने पहले चीन के वुहान शहर से ही यह वायरस फैलना शुरू हुआ था। इससे प्रभावित ज्यादातर देशों में लॉकडाउन जैसे हालात हैं.

Coronavirus Update (Live)

Coronavirus Update

error: Content is protected !!