कोरोना के कहर में कांग्रेस सरकार ने आंखे मूँद कर जनता को उसके हाल पर छोड़ा : जनार्दन शर्मा

गुरु नगरी में दिन-प्रतिदिन बढ़ रहे कोरोना संक्रमितों पर शर्मा ने जताई गहरी चिंता

अमृतसर: 9 जून ।  भारतीय जनता पार्टी के नेता जनार्दन शर्मा ने गुरु नगरी अमृतसर में दिन प्रतिदिन बढ़ रहे कोरोना संक्रमित मरीजों पर गहरी चिंता जताते हुए इसे प्रशासन की नाकामी करार दिया है। जनार्दन शर्मा द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति में पंजाब की कांग्रेस सरकार और प्रशासन को कोरोना से जनता को सुरक्षित रखने में हुई विफलता पर आड़े हाथो लेते हुए कहा कि सरकार और प्रशासन में समन्वय की कमी के परिणाम स्वरूप आज शहरवासी कोरोना की भयानक बीमारी की गिरफ्त में आ रहे है। शर्मा ने कहाकि कोरोना के प्रकोप से हुए मानवीय जीवन में आर्थिक नुक्सान की स्थिति को पटरी पर लाने के लिए लॉकडाउन में दी गयी रियायते तो सरकार ने दे दी, परन्तु कोरोना के फैल रहे कहर से आंखे मूँद कर जनता को कोरोना की आग में झुलसने के लिए खुद के हाल पर छोड़ दिया है। 

जनार्दन शर्मा ने कहाकि शहर में हर दिन कोरोना संक्रमित मरीजों का आंकड़ा प्रशासन की अनदेखी और सरकार की कोरोना जंग से लड़ने के लिए मुहैया करवाई जाने वाली अच्छी स्वास्थ्य सुविधाओ की कमी के कारण है। उन्होंने कहा कि जहाँ पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह अपने महल में आराम फरमा कर पंजाबियो का जीवन सुरक्षित करने में पूरी तरह से फेल साबित हो रहे है वहीं कांग्रेसी मंत्री व उनके छुटपुट नेता केंद्र द्वारा भेजे गए राशन को अपने चहेतो में ही बाँट कर अपना राजनीतिक वर्चस्व बढ़ाने में व्यस्त है। 

 जनार्दन शर्मा ने कहाकि जब से जिले में कोरोना संक्रमितों के मामले सामने आने शुरू होए हैं कोई भी कांग्रेसी नेता जमीनी स्तर पर अपने इलाके की जनता की सुध लेने के लिए सामने नहीं आया । उन्होंने कहा कि पंजाब सरकार द्वारा या जिला प्रशासन द्वारा जनता को अपने जिले में कोरोना सबंधी जागरूक करने के लिए हर रोज एक बुलिटन जारी करना चाहिए पर अफ़सोस कि ऐसा नहीं किया जा रहा । शर्मा ने मांग की कि कोरोना की रोकथाम के लिए सरकार सटीक कदम उठाये ताकि जनता के जीवन को बचाया जा सके I

error: Content is protected !!