पंजाब सरकार ने 2,86,353 रजिस्टर्ड निर्माण श्रमिकों के खाते में डी.बी.टी. के द्वारा 86 करोड़ रुपए डाले

चंडीगढ़, 27 मार्च:पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह के निर्देशों पर श्रम विभाग द्वारा आज 2,86,353 रजिस्टर्ड निर्माण श्रमिकों के बचत बैंक खातों में डी.बी.टी. के द्वारा 86 करोड़ रुपए ट्रांसफर किये गए हैं।इस सम्बन्धी जानकारी देते हुये श्रम और स्वास्थ्य मंत्री स. बलबीर सिंह सिद्धू ने बताया कि कोरोना वायरस बीमारी (कोविड -19) ने बहुत ही थोड़े समय में पूरी दुनिया को अपनी लपेट में ले लिया है और विश्व भर में 21,031 से अधिक मौतें हो चुकी हैं।

इस बीमारी के बढ़ रहे प्रकोप को ध्यान में रखते हुए, विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्लयूएचओ) ने पहले ही इसको महामारी घोषित किया है और पूरे विश्व के लिए एडवायज़रियां जारी की हैं। निर्माण श्रमिक के काम की प्रकृति को ध्यान में रखते हुए वह घर से काम करने से असमर्थ हैं। इसलिए निर्माण श्रमिक को बिना काम और मज़दूरी के घर रहना पड़ेगा। बिना काम और वेतन के निर्माण श्रमिक और उनके पारिवारिक सदस्यों के लिए गुज़ारा करना बहुत मुश्किल है।

इसके मद्देनजऱ मुख्यमंत्री, पंजाब कम चेयरमैन बिल्डििंग एंड कंस्टरक्कशनज़ वर्करज़ वैलफेयर बोर्ड की तरफ से हर रजिस्टर्ड निर्माण श्रमिक को तुरंत 3000 रुपए की अस्थायी अंतरिम राहत देने का ऐलान किया गया है।स. बलबीर सिंह सिद्धू ने बताया कि पंजाब बी.ओ.सी.डब्लयू. वैलफेयर बोर्ड ने 2,86,353 लाभपात्रियों के मामलों की प्रोसेसिंग की है और उनके बचत खातों में डी.बी.टी. के द्वारा 86 करोड़ रुपए की राशि ट्रांसफर की गई है। 

Coronavirus Update (Live)

Coronavirus Update

error: Content is protected !!