पंजाब को जनवरी महीने दौरान जी.एस.टी., वैट और सी.एस.टी. से कुल 1733.95 करोड़ रुपए का राजस्व प्राप्त हुआ

पिछले साल के मुकाबले 5.32 प्रतिशत वृद्धि हुई

चंडीगढ़, 3 फरवरी। पंजाब को इस साल जनवरी महीने दौरान जी.एस.टी., वैट और सी.एस.टी. से कुल 1733.95 करोड़ रुपए का राजस्व एकत्रित हुआ जबकि पिछले साल जनवरी 2020 में यही राजस्व 1646.4 करोड़ रुपए था। इस तरह जनवरी महीने में कुल राजस्व में पिछले साल के मुकाबले 5.32 प्रतिशत की वृद्धि हुई है।पंजाब का जनवरी 2021 महीने दौरान कुल जी.एस.टी. राजस्व 1185.96 करोड़ रुपए रहा। पिछले साल इसी महीने का कुल जी.एस.टी. राजस्व 1194.81 करोड़ था, जो कि पिछले साल की अपेक्षा 0.74 प्रतिशत की कमी को दर्शाता है।

पंजाब के कर आयुक्त कार्यालय के प्रवक्ता ने जानकारी देते हुए बताया कि अप्रैल से जनवरी, 2021 दौरान पंजाब का कुल जी.एस.टी. राजस्व 9066.96 करोड़ रुपए था जबकि पिछले साल इन 10 महीनों के समय के दौरान कुल जी.एस.टी. राजस्व 10,562.51 करोड़ रुपए था। इस तरह 14 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई है।सरकारी प्रवक्ता ने आगे जानकारी देते हुए बताया कि जनवरी 2021 के महीने सुरक्षित राजस्व 2403 करोड़ है जिसमें से पंजाब राज्य ने 1185.96 करोड़ रुपए प्राप्त किये हैं, जो कि कुल सुरक्षित राजस्व का करीब 49.35 प्रतिशत बनता है। इस तरह जनवरी 2021 के महीने के लिए बकाया मुआवज़े की रकम 1217.04 करोड़ रुपए है जोकि अभी तक प्राप्त नहीं हुई। इसी तरह अप्रैल से जनवरी 2021 के समय के दौरान मुआवज़े की रकम 8253 करोड़ रुपए बनती है जो कि भारत सरकार की तरफ बाकाया खड़ी है।

सरकारी प्रवक्ता ने आगे बताया कि राष्ट्रीय सकल जी.एस.टी. राजस्व संग्रह जनवरी 2021 के महीने दौरान 1,19,847 करोड़ रुपए है जबकि पिछले साल जनवरी 2020 के महीने दौरान कुल राष्ट्रीय जी.एस.टी. का राजस्व 1,10,828 करोड़ रुपए एकत्रित हुआ। इस तरह 8 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज हुई है। जनवरी 2021 के लिए राष्ट्रीय एस.जी.एस.टी. कुल 48,385 करोड़ रुपए एकत्रित हुआ जिसमें पंजाब का योगदान 2.5 प्रतिशत रहा।उन्होंने आगे बताया कि जी.एस.टी. के अलावा पंजाब राज्य को वैट और सी.एस.टी. से भी टैक्स /राजस्व प्राप्त होता है। वैट और सी.एस.टी. एकत्रित करने में प्रमुख योगदान करने वाले उत्पाद शराब और पाँच पैट्रोलियम उत्पाद हैं। जनवरी 2021 के महीने में वैट और सी.एस.टी. की कुलैकशन 547.99 करोड़ रुपए है, जबकि पिछले साल जनवरी 2020 के महीने के लिए यही कुलैकशन 451.59 करोड़ रुपए थी। इस तरह इस साल पिछले साल के मुकाबले 21.34 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई।प्रवक्ता ने आगे बताया कि अप्रैल से जनवरी 2021 के लिए वैट और सी.एस.टी. कुल राजस्व 5022.01 करोड़ रुपए रहा है जोकि पिछले साल के इसी समय के दौरान कुल राजस्व 4589.18 करोड़ रुपए था, जोकि 9.43 प्रतिशत की वृद्धि को दर्शाता है।

Print Friendly, PDF & Email
www.thepunjabwire.com
error: Content is protected !!