पाकिस्तान से तस्करी के जरिए आई एक किलों हेरोइन सहित मां बेटा गिरफ्तार

कुछ दिनों पहले ही बड़ी मात्रा में हुई सरहद पार से हेरोइन की खेप की हुई सप्लाई

व्हाट्स एप के जरिए बनाई गई थी तस्करी की योजना

गुरदासपुर, 25 जुलाई (मनन सैनी)।  जिला गुरदासपुर की पुलिस ने दीनानगर थाने अधीन छोटू राम मंदिर के समीप तारागढ़ रोड़ पर लगाए गए स्पेशल नाके के दौरान एक मां बेटे के पास से एक किलों हेरोइन बरामद का दावा किया है। ​पूछताछ में पता चला है कि पिछले दिनों भारत में ​बमियाल सैक्टर के सिंबल कुलियां बार्डर एरिया के जरिए बड़ी मात्रा में हेरोइन की खेप पाकिस्तानी तस्करों की ओर से भेजी गई है।  जिसे गुरदासपुर तथा समीप के जिलों सहि​त कई अन्य इलाकों में बेचा जाना था। हेरोइन की तस्करी पाड़ियों के जरिए बड़े स्तर पर होती है यह भी पूछताछ के दौरान सामने आया है। गौर रहे कि जिला गुरदासपुर पुलिस की ओर से पकड़ी गई एक किलो हेरोइन 2016 के बाद से सबसे बड़ी बरामदगी है। 

गुरदासपुर के एसएसपी राजिंदर सिंह सोहल ने बताया कि एसपी (डी) हरविंदर संधू की निगरानी तले नशे पर नकेल डालने के लिए टीमें गठित की गई है।​​ ​जिसके चलते शुक्रवार देर रात करीब साढ़े ग्यारह बजे छोटू राम मंदिर के समीप तारागढ़ मोड़ पर नाका लगाया हुआ था। ​वहीं तारागढ़ मोड़ से एक नौजवान मोटरसाईकल पर आता दिखाई दिया जिसके पीछे एक औरत भी बैठी थी। पुलिस को देख कर उन्होने मुड़ने का प्रयास किया, परन्तु पुलिस ने पीछा कर उन्हे काबू किया। उसने मोटरसाईकल की टंकी पर तथा जांझों के बीच एक लिफाफा रखा गया। संदेह पाए जाने पर थाना दीनानगर के प्रभारी कुलविंदर सिंह ने डीएसपी राजेश कक्कड़ को बुलाया और तलाशी ली गई। जिसमें से एक किलों हेरोइन बरामद हुई। जिसमें आरोपियों की पहचान रविंदर सिंह पुत्र पलविंदर सिंह निवासी सिंबल कुलियां (थाना नरोट जैमल सिंह) और उसकी मां सुरजीत कौर के रुप में हुई । इस संबंधी थाना दीनानगर में मामला दर्ज किया गया है।  

एसएसपी सोहल ने बताया कि प्राथमिक जांच में सामने आया है कि उक्त हेरोइन सरहद पार पाकिस्तान से भेजी गई थी। पाकिस्तान तस्करों की ओर से 15-20 दिन पहले शनिवार की रात हेरोइन की सप्लाई भारत में तैनात तस्करों को की गई। जिसे बार्डर से लाकर भारतीय तस्करों ने उक्त खेप को पकड़े गए मां बेटे के घर में छिपाई थी। उक्त एक किलों हेरोइन तस्करों की ओर से मां बेटे को तस्करी में सहायता करने के लिए मुआवजे के तौर पर बेचने के लिए उन्हे दी गई।  

उन्होने बताया कि हेरोइन की सप्लाई के लिए भारतीय नशा तस्करों की ओर से वहा्ट्स एप के जरिए पाकिस्तान के तस्करों से  संपर्क साधा गया तथा हेरोइन की सप्लाई संबंधी योजना तैयार की गई। जिसके तहत निशान देही कर बमियाल सैक्टर में सिंबल कुलियां बार्डर एरिया से तस्करी की योजना बनी।

एसएसपी सोहल ने बताया कि पूछताछ में यह भी सामने आया है कि कुछ तस्कर जोकि पांडी का काम करते है और एक पैकेट को सप्लाई करने के एवज में अढ़ाई लाख रुपए तक लेते है । जिन्हे गिरफ्तार करने के लिए पुलिस टीमों तैयार कर दी गई है।

एसएसपी सोहल ने साफ किया कि जिले में किसी भी तस्कर को बख्शा नही जाएगा, चाहे वह अवैध शराब का धंधा करने वाला हो, मेडिकल नशा बेचने वाला हो या हेरोइन के सप्लायर सभी के खिलाफ कारवाई की जाएगी।

Coronavirus Update (Live)

Coronavirus Update

error: Content is protected !!