कोविड-19 के संक्रमण से उपचार के बाद भारत में 7 लाख से अधिक मरीज स्वस्थ हुए

2.46%की दर के साथ भारत विश्व में सबसे कम मृत्यु दर वाले देशों में से एक है

देश में कोविड मृत्यु दर में लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है। यह आज घटकर 2.46% रह गई है। भारत दुनिया में
सबसे कम मृत्यु दर वाले देशों में से एक है। देखभाल प्रोटोकॉल के मानक को अच्छी तरह लागू करते हुए कोविड संक्रमण के मध्यम और गंभीर मरीजों के प्रभावी नैदानिक उपाचर से कोविड मरीजों को बड़ी संख्या में स्वस्थ होना सुनिश्चित किया जा सका है। केंद्र सरकार सामूहिक रूप से कोविड-19 का मुकाबला करने में राज्यों / केंद्रशासित प्रदेशों की सरकारों की मदद कर रही है। ऐसी ही एक पहल एम्स, नई दिल्ली का ई-आईसीयू कार्यक्रम है। एम्स ने मृत्यु दर को कम करने के उद्देश्य से11 राज्यों के 43 बड़े
अस्पतालों को आईसीयू रोगियों के नैदानिक ​​प्रबंधन में विशेषज्ञों के अनुभवों को साझा करने और तकनीकी सलाह के
माध्यम से मदद की है। इससे गंभीर मरीजों की देखभाल और उपचार में उनकी क्षमता में काफी वृद्धि हुई है।

अब तक 7 लाख से अधिक मरीजों को कोविड-19 के संक्रमण से ठीक कर दिया गया है और उन्हें अस्पताल से छुट्टी देकर
घर भेज दिया गया है। इसके साथ ही कोविड-19 के सक्रिय रोगियोंकी संख्या और इस बीमारी से ठीक होने वाले लोगों
की संख्या (7,00,086)के बीच का अंतर बढ़कर 3,09,627 हो गया है। पिछले 24 घंटों में कोविड-19के संक्रमण
से 22,664मरीज स्वस्थ हुए हैं। इसके साथ ही इस बीमारी से ठीक हने की दर बढ़कर अब 62.62% है।
अस्पतालों और घरोंमें आईसोलेशन में रहकर इलाज करा रहे सभी 3,90,459मरीजों पर चिकित्सकीय ध्यान दिया जा
रहा है।

error: Content is protected !!