239 वैज्ञानिकों का दावा, हवा से भी फैलता है कोरोना वायरस, WHO से की संशोधन की मांग

कोरोना वायरस के संक्रमण का असर पूरी दुनिया पर पड़ा है। अब तक एक करोड़ से अधिक लोग कोरोना से संक्रमित हैं। नई बीमारी होने की वजह से अब तक इसके बारे में बहुत कुछ पता नहीं है और तकरीबन हर रोज नई बातें सामने आ रही हैं।

दुनिया भर के वैज्ञानिकों ने अपनी रिसर्च में पाया है कि कोविड 19 का खतरनाक वायरस हवा के जरिए भी फैलता है। अगर आप भीड़भाड़ से दूर खुले में बिना मास्क लगाये यह सोचकर घूमते हैं कि आप किसी दूसरे व्यक्ति के संपर्क से दूर हैं और ऐसे में कोरोना वायरस आपको संक्रमित नहीं कर सकता तो आपको संभाल जाने की जरूरत है।

32 देशों के 239 वैज्ञानिकों ने अपने रिसर्च में पाया कि नोवेल कोरोना वायरस के छोटे-छोटे कण हवा में भी जिंदा रहते हैं और वे भी लोगों को संक्रमित कर सकते हैं। न्यूयॉर्क टाइम्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक वैज्ञानिकों का नया दावा अब कोरोना की कुछ और ही कहानी कह रहा है। वैज्ञानिकों ने विश्व स्वास्थ्य संगठन से कोविड19 वायरस की संस्तुति में तुरंत संशोधन करने का आग्रह किया है।

32 देशों के इन 239 वैज्ञानिकों ने विश्व स्वास्थ्य संगठन को एक खुला पत्र लिखा है। इन सभी वैज्ञानिकों ने दावा किया कि इस बात के पर्याप्त सबूत हैं, जिससे यह साबित होता है कि कोविड19 वायरस के छोटे-छोटे कण हवा में तैरते रहते हैं, जो लोगों को संक्रमित कर सकते हैं। यह लेटर साइन्टिफिक जर्नल में अगले हफ्ते प्रकाशित होगा। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कोरोना वायरस के फैलने के तरीके के बारे में कहा था कि इसका संक्रमण हवा से नहीं फैलता। उसने साफ किया था कि यह खतरनाक वायरस सिर्फ ड्रॉपलेट्स से ही फैलता है। ये कण कफ, छींक, थूक और बोलने से शरीर से बाहर निकलते हैं। थूक के कण इतने हल्के नहीं होते जो हवा के साथ यहां से वहां उड़ जाएं, वे बहुत जल्द ही जमीन पर गिर जाते हैं। दुनिया भर में कोरोना वायरस का कोहराम लगातार बढ़ता जा रहा है।

दुनिया भर में इस वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 1.15 करोड़ के पार पहुंच गई है। इस वायरस से दुनियाभर में अब तक 5.36 लाख से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। इस महामारी से अब तक 65.35 लाख लोग ठीक हो चुके हैं.

कोविड-19 से अमेरिका में सबसे अधिक लोग प्रभावित है। अमेरिका में इसके मरीजों की संख्या 29.82 लाख के पार पहुंच चुकी है। जबकि 1.32 लाख से अधिक लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। ब्राजील, भारत, रूस और पेरू जैसे देशों में भी मरने वाले लोगों की संख्या लगातार बढ़ रही है.

Thepunjabwire
  • 13
  • 51
  •  
  • 0
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    64
    Shares
error: Content is protected !!