सहकारिता मंत्री द्वारा तरसिक्का सहकारी बैंक और इसके अधीन 5 सहकारी सोसायटियों में हुए घपले की जांच के आदेश

उच्च स्तरीय जांच टीमों द्वारा गहराई से जांच की जायेगीः रंधावा

सहकारी बैंक के एम डी द्वारा शुरूआती जांच में आया मामला सामने

चंडीगढ़, 2 जूनः तरसिक्का सहकारी बैंक और इसके अधीन 5 सहकारी सोसायटियों में हुए घपले का मामला सामने आने के बाद सहकारिता मंत्री स. सुखजिन्दर सिंह रंधावा ने इसकी उच्च स्तरीय जांच के आदेश दिए हैं। सहकारिता विभाग की उच्च स्तरीय टीमें इस मामले की गहराई से जांच करेंगी जिसमें बाहरी सोसायटियों के सीनियर आॅडिटर अफसर और अन्य अधिकारी शामिल होंगे।

यह फैसला सहकारिता मंत्री द्वारा आज यहाँ सहकारी सभाओं के रजिस्ट्रार श्री विकास गर्ग और पंजाब राज्य सहकारी बैंक के एम डी श्री वरुण रूजम से की गई मीटिंग में लिया गया। स. रंधावा ने बताया कि उनके ध्यान में यह मामला आया था कि तरसिक्का सहकारी बैंक अधीन आते 5 सहकारी सोसायटियों तरसिक्का, सैदोके लैहल, भट्टीके, चुगावां साधपुर और कोहाला में घोटाला हुआ है जो साल 2012-13 से चल रहा है। इसकी प्राथमिक जांच के लिए बीते दिन पंजाब राज्य सहकारी बैंक के एम डी श्री रूजम को जमीनी हकीकत जानने के लिए भेजा गया था। श्री रूजम द्वारा किये शुरूआती जांच में घोटाले की पुष्टि हुई है।

सहकारिता मंत्री स. रंधावा ने कहा कि शुरूआती जांच में सामने आए मामले के बाद उच्च स्तरीय जांच करवाने का फैसला किया गया है। उन्होंने कहा कि पूरे मामले की गहराई से जांच की जायेगी और किसी भी दोषी को बख्शा नहीं जायेगा।

error: Content is protected !!