कोरोनावायरस संबंधी अधिकारियों/कर्मचारियों को संवेदनशील बनाने के लिए रैज़ीडैंट कमिश्नर ने की मीटिंग

माहिर डॉक्टरों द्वारा बताईं गईं सावधानियों को अमल में लाने के लिए किया प्रेरित

चंडीगढ़/नई दिल्ली, 3 मार्च: कोरोनावायरस के बढ़ रहे खतरे को ध्यान में रखते हुए रैज़ीडैंट कमिश्नर पंजाब भवन नई दिल्ली में श्रीमती राखी गुप्ता भंडारी द्वारा आज यहाँ विभिन्न विभागों के अधिकारियों के साथ मीटिंग करके उनको इस वायरस से सुरक्षित रहने के लिए संवेदनशीलता के साथ सावधानियों को बरतने के लिए कहा।

उन्होंने मीटिंग को संबोधन करते हुए कहा कि चाहे भारत में इस वायरस सम्बन्धी स्थिति ज़्यादा गंभीर नहीं है परन्तु फिर भी प्रत्येक को सावधानियों को अमल में लाना चाहिए। उन्होंने कहा कि सभी को चौकस रहने के साथ-साथ सफ़ाई का ख्याल रखना चाहिए जैसे लगातार हाथों को साफ़ रखना, लोगों के ज़्यादा नज़दीक न जाना आदी।

पंजाब भवन में स्वास्थ्य विभाग के माहिरों ने इस मौके पर अधिकारियों और कर्मचारियों को हिदायत की कि यदि किसी भी व्यक्ति को बुख़ार, खाँसी, नाक का बहना और साँस लेने में तकलीफ़ हो तो वह रिपोर्ट करें और विभाग के डॉक्टरों के साथ संपर्क करें। उन्होंने साथ ही कहा कि अधिकारी कर्मचारी प्रमुखता से सावधानियों को अमल में लाने की सलाह दी।

रैज़ीडैंट कमिश्नर ने इस मौके पर सम्बन्धित अधिकारियों को हिदायत दी कि वह रिसैपशन डैस्कों पर सैनीटाईजऱ मुहैया करवाने और पंजाब भवन में तैनात समूचे कर्मचारियों को इन सावधानियों के प्रति संवेदनशील बनाएं। उन्होंने इस वायरस से सुरक्षित रहने के लिए इस्तेमाल की जाने वाली सावधानियों सम्बन्धी रिसैपशन डैस्कों पर लिखित रूप में चिपकाने के लिए कहा जिससे यहाँ आने वाले लोगों को भी इसके प्रति संवेदनशील बनाया जा सके। उन्होंने इंजीनियर विंग को हिदायत की कि समूचे पंजाब भवन कैंपस को कीटाणू मुक्त रखें।

error: Content is protected !!