मुख्यमंत्री द्वारा लोगों को सामाजिक स्तर पर रोकथाम करने और अनावश्यक यात्रा करने से संकोच करने की अपील

चंडीगढ़, 25 अप्रैल: देश के साथ-साथ राज्य में कोविड मामलों में निरंतर वृद्धि के मद्देनजऱ पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने लोगों को ग़ैर-ज़रूरी यात्रा करने और स्थानीय आवाजाही करने से संकोच करने की अपील की है, जिससे इस वायरस पर काबू पाने और इसके फैलाव को रोका जा सके।

इस संबंधी विस्तार में जानकारी देते हुए राज्य सरकार के एक प्रवक्ता ने बताया कि मुख्यमंत्री ने देश में कोविड-19 की स्थिति संबंधी गहरी चिंता ज़ाहिर करते हुए लोगों को और अधिक संयम बरतने की अपील की है।

मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘हम अपने राज्य में हालात काबू से बाहर निकलने नहीं दे सकते। इस समय राज्य में रोज़ाना कोरोना के 5500-6000 केस आ रहे हैं और पिछले एक हफ़्ते में पॉजि़टिविटि दर 10 प्रतिशत से अधिक है। ऐसे समय में यह बहुत महत्वपूर्ण है कि हम महामारी के खि़लाफ़ एकजुट हों।’’

मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘इसके पुख़्ता सबूत हैं कि सामाजिक मेल-जोल वायरस फैलाने का अहम जऱीया बनता है। इस कारण हम सभी के लिए यह बहुत ज़रूरी है कि ग़ैर-ज़रूरी कामों के लिए सफऱ करने और घरों से बाहर निकलने से संकोच किया जाए। चाहे आप गाँवों में हों या शहरों में, कोविड लहर के दौरान हम ज़रूरी कामों के लिए ही अपने घरों से बाहर निकलें और अपने-आप को घरों में सुरक्षित रहने को प्राथमिकता दें।’’
इस समय शहरों में बीमारी का प्रभाव और ज्य़ादा है और शहरों और गाँवों के दरमियान सफऱ और सामाजिक मेल-जोल घटाकर ग्रामीण क्षेत्र में कोरोना के फैलाव को रोकना ज़रूरी है। उन्होंने आगे कहा कि स्थानीय लोगों में दिशा-निर्देशों की पालना को यकीनी बनाकर ग्राम पंचायतें और शहरी स्थानीय संस्थाएं अपने चुने हुए नुमायंदों के द्वारा इस बीमारी की रोकथाम में अहम भूमिका निभा सकती हैं।

भावुक अपील करते हुए कैप्टन अमरिन्दर ने कहा, ‘‘मैं अपने सभी साथी पंजाबियों को स्थिति की गंभीरता को समझने और नीचे लिखीं 7 बातों पर अमल करने की अपील करता हूँ:पहला, बिना किसी ज़रूरी काम के अपने घर से बाहर जाने से परहेज़ करो;

दूसरा, बीमारी के लक्षण दिखाई देने पर ख़ुद को अपने पारिवारिक सदस्यों और पड़ोसियों से अलग कर लो;

तीसरा, कोरोना के लक्षण दिखाई देने पर तुरंत नज़दीकी स्वास्थ्य केंद्र में अपनी जाँच करवाएं;

चौथा, हलके या कम लक्षणों के मामले में डॉक्टरी सलाह लो और घर में एकांतवास रहो और गंभीर लक्षण दिखाई देने पर सरकारी या निजी स्वास्थ्य सुविधा में दाखि़ल हों;

पाँचवाँ, डॉक्टरों की सलाह के अनुसार दवाओं की ‘फतेह होम किट’ इस्तेमाल करो और घर से हमारी स्वास्थ्य टीमों से संपर्क करो;

छटा, बिना किसी देरी के नज़दीकी टीकाकरण वाली जगह पर जाकर टीका लगवाओ;

सातवां, नियमित तौर पर मास्क पहनो, हाथ धोओ और निर्धारित सामाजिक दूरी बनाकर रखो।

Print Friendly, PDF & Email
Thepunjabwire
  • 10
  • 70
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    80
    Shares
error: Content is protected !!