जिले गुरदासपुर में दो लाख से पार हुआ वैक्सीन लगवाने वालों का आंकड़ा, छह अन्य संक्रमितों की मौत तथा कुल 187 पाए गए संक्रमित

स्पेशल जेल में 56 हवालाती पाए गए कोरोना पॉजिटिव, विभिन्न जिलों से आते है हवालाती

केंद्रीय जेल गुरदासपुर को बनाया गया है स्पेशल जेल, 10 दिन बाद करवाया जाता है हवालातियों का कोरोना टैस्ट, संक्रमितों पुरुषों को लुधियाना तथा महिलाओं को सिवल अस्पताल में किया जाता है आईसोलेट

गुरदासपुर, 15 अप्रैल (मनन सैनी)। गुरदासपुर जिले में कोरोना वैक्सीन लगवाने वालों का आंकड़ा दो लाख पार कर गया है। वहीं गुरुवार को छह अन्य संक्रमित मरीजों की मौत हो गई। जबकि 187 मरीज संक्रमित पाए गए। जिसमें कोविड़ -19 महामारी के दौरान स्पेशल जेल के रुप में बनाई गई गुरदासपुर की केंद्रीय जेल में एक साथ 56 हवालाती संक्रमित शामिल है। हालाकिं संक्रमित पाए जाने के बाद जेल प्रशासन की ओर से मरीज कैदियों को कोविड़ केयर सैंटर ( लुधियाना जेल) में शिफ्ट कर दिया गया। यह हवालाती ​पंजाब के विभिन्न जिलों से लाए गए थे ​जिन्हें यहां क्वांरटाईन किया गया था। वहीं जिले में कुल 187 अन्य संक्रमित पाए गए तथा छह अन्य संक्रमित मरीजों की मौत हो गई।

गौर रहे कि हर नए कैदी को पहले स्पेशल जेल में भेजा लाया जाता है, जहां एक पूर्ण-स्क्रीनिंग के बाद उन्हें 15 दिनों के लिए क्वारंटाईन के लिए रखा जाता है तथा दस दिन बाद उनके टैस्ट लिए जाते है। टैस्ट रिपोर्ट नैगेटिव आने पर जिस जेल के आर्डर हो वहां भेज दिया जाता है तथा संक्रमित पाए जाने पर पुरुषों को कोविड़ केयर सैंटर जोकि अभी लुधियाना जेल में बनी है वहां भेज दिया जाता है। जबकि संक्रमित महिलाओं हवालातियों को सिवल अस्पताल के कोविड़ केयर सैंटर में रखा जाता है।

इस संबंधी पुष्टी करते हुए केंद्रीय जेल गुरदासपुर के सुप्रिंटेडेंट बलकार सिंह भुल्लर ने बताया कि गुरदासपुर में केवल क्वारंटाईन किया जाता है तथा यहां पक्के कैदी नही रखे गए है। उन्होने बताया कि स्पेशल जेल बनने से इस जोन अधीन पड़ते पठानकोट, गुरदासपुर, बटाला, अमृतसर देहाती, अमृतसर सिटी, होशियारपुर, कपूरथला, जालंधर, जालंधर देहाती, के हवालाती यहां लाए जाते है। जिनका 10 दिन के बाद टैस्ट करवाया जाता है। उन्होने बताया कि सभी कैदियों की शिफ्टिंग के बाद बैरकों को नियमों अनुसार सैनेटाईज किया जाता है।

वहीं स्वस्थ्य विभाग के अधिकारियों ने बताया कि बैरक में बंद नैगेटिव मरीजों की भी दोबारा जांच करवाई जाती है। जिसके उपरांत उन्हे दूसरी जेलों में​ शिफ्ट किया जाता है। जिससे कैदियों में बिमारी फैलने का खतरा बेहद कम होता है।

उधर सिवल सर्जन गुरदासपुर डाॅ हरभजन मांडी ने बताया कि जिले में अब कुल संक्रमितों की संख्या 12 हजार 781 हो गई है। जबकि कुल 406 मरीजों की मौत हो चुकी है। वहीं 77 मरीज ठीक हुए है।

इसी के साथ गुरदासपुर में वैक्सीन लगवाने वालों का आंकड़ा दो लाख से पार कर गया है।इस संबंधी जानकारी देते हुए जिला टीकाकर्ण अफसर डाॅ अरविंद मनचंदा ने बताया कि गुरुवार को 5080 लोगों ने वैक्सीन लगवाने के साथ ही जिले में कुल 2 लाख 4 हजार 741 लोगों को वैक्सीन लगवाई जा चुकी है।

Print Friendly, PDF & Email
Thepunjabwire
  • 23
  • 70
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    93
    Shares
error: Content is protected !!