सांसद प्रताप बाजवा ने 284.24 करोड़ की गन्ने की बकाया राशी की तत्काल अदायगी संबंधी मुख्यमंत्री कैप्टन को लिखा पत्र

मुख्यमंत्री को कहा आपके आदेशों के बावजूद छह माह से शूगरफैड़ ने नही कि 118.63 करोड़ की अदायगी, निजी मिलों पर भी किसानों का 129.61 करोड़ बकाया 

गुरदासपुर, 17 दिसंबर (मनन सैनी)। पंजाब प्रदेश कांग्रेस कमेटी के पूर्व प्रधान एवं गुरदासपुर से राज्यसभा सांसद प्रताप सिंह बाजवा ने पंजाब के गन्ना किसानों की 284.24 करोड़ रुपए की बकाया राशी की अदायगी करने संबंधी पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेन्द्र सिंह को पत्र लिखा है। बाजवा ने मुख्यमंत्री से मांग की है कि सहकारी तथा निजी मिलों की बकाया राशी का भुगतान तुरंत किया जाए क्योंकि किसानों को गन्ने की अगली फसल की कटाई के लिए भी आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ रहा है। 

अपने पत्र में बाजवा ने मुख्यमंत्री से कहा कि उनकी ओर से 11 जून 2020 को वित्त विभाग को शूगरफैड़ पंजाब को 150 करोड़ रुपए किसानों के गन्ने की बकाया राशी की अदायगी के लिए आदेश जारी किए थे। शूगरफैड़ पंजाब को इस संबंधी अपने स्तोत्रों से तुरंत 149 करोड़ रुपए जारी करने के निर्देश भी जारी किए थे। 

परन्तु यह चिंता का​ विषय है कि आपके आदेशों तथा निर्देशों के बावजूद छाह माह बाद भी शूगर फैड़ अभी तक शेष भुगतान नही कर पाई है तथा 118.63 करोड़ रुपए किसानों के अभी तकबकाया है । जो सहकारी मिलों से संबंधित किसानों को देने बाकि है जबकि नया पिड़ाई सीजन शुरु हो चुका है। 

बाजवा ने बताया कि उनके ध्यान में आया है कि सहकारी विभाग को सहकारी संस्थानों के लिए नाबार्ड से 750 करोड़ रुपए प्राप्त हुए है तथा वह निवेदन करते है कि सहकारी विभाग को इन फंड में से गन्ने की उक्त बकाया राशी के भुगतान तुरंत जारी किए जाए। इसी तरह निजी शूगर मिलों से संबंधित 129.61 करोड़ रुपए के गन्ने की बकाया राशी का भुगतान भी तुरंत अदा किए जाने चाहिए। ताकि ​किसानों पर आर्थिक बोझ से छुटकारा मिल सके।  

Thepunjabwire
  • 9
  • 22
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    31
    Shares
error: Content is protected !!