हादसा-धान की पराली में लगी आग की चपेट में आई बुजुर्ग महिला की मौत, स्कूटी पर जा रही थी महिला, चालक की आंखों में धुआं आने से आग में आग की चपेट में आए

तरनतारन 7 नवंबर (अमित मरवाहा)। थाना भीखीविंड के अधीन आते गांव वीरम निवासी महिला मनजीत कौर उम्र 62 वर्ष की खेत में धान की पराली को लगी आग में बुरी तरह झुलस जाने के बाद मृत्यु हो गई। प्राप्त जानकारी अनुसार मनजीत कौर पत्नी जोगिंदर सिंह निवासी वीरम अपने गांव से भीखीविंड जाने के लिए स्कूटी पर सवार होकर अपने पौत्र लवप्रीत सिंह पुत्र हरपाल सिंह के साथ जब गांव से बाहर जा रही थी तो रास्ते में एक किसान ने अपने खेत में धान की पराली को आग लगा रखी थी स्कूटी सवार लवप्रीत सिंह जब उक्त खेत के समीप से गुजरा तो धान की पराली को लगी आग के कारण उसे एकदम से दिखना बंद हो गया।

आंखों के आगे धुआं ही धुआं होते ही उसकी स्कूटी बेकाबू हो गई और वह सड़क पर गिर पड़ा जबकि बुजुर्ग मनजीत कौर स्कूटी समेत पराली में लगी आग के खेत में गिर गई ।जिसको लगभग 20 मिनट के बाद गांव वासियों ने बड़ी मुश्किल से बाहर निकाला खेत में लगी आग से स्कूटी और मनजीत कौर बुरी तरह से आग की चपेट में आ गई। जब गांव वासियों ने मनजीत कौर को बाहर निकाला तो वह लगभग 80 प्रतिशत जल चुकी थी।

जबकि स्कूटी का केवल ढांचा ही बचा था मनजीत कौर को एंबुलेंस की सहायता से तुरंत भीखीविंड के एक प्राइवेट अस्पताल में लाया गया। जहां पर उसकी नाजुक हालत को देखते हुए उसे सरकारी अस्पताल सुरसिंह में रेफर कर दिया गया। आग से बुरी तरह झुलसी मनजीत कौर की रास्ते में ही मृत्यु हो गई मौके पर पहुंची थाना खालडा की पुलिस को स्कूटी को अपने कब्जे में लेकर मामले की जांच आरंभ कर दी गई है। जबकि इस संबंध में जब थाना खालड़ा के एसएचओ नरेंद्र सिंह से बात करनी चाही तो उन्होंने मीडिया से बात करने से इनकार कर दिया। गौर रहे कि है कि जिला तरनतारन में प्रशासन की लापरवाही और राजनीतिक लोगों के आशीर्वाद से किसान खुलेआम अपने अपने खेतों में पराली को आग से जला रहे हैं जिसका खामियाजा आम लोगों को अपनी जान गवाकर भुगतना पड़ रहा है

Thepunjabwire
  • 9
  • 6
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    15
    Shares
error: Content is protected !!