मोदी साहिब किसान अगर बोना जानता है तो काटना भी, चाहे फसल हो या पार्टी- किसान

सड़कों पर है किसान पर मोदी के कानों पर जूं तक नही रेंग रही,  किसान अपना हक लेना जानता है- सुल्तानी

गुरदासपुर, 8 अक्तूबर (मनन सैनी)। मोदी साहिब किसान अगर बोना जानता है तो उसे काटने की कला भी किसान में है, फिर चाहे वह किसान हो या फिर कोई भी  राजनितिक पार्टी। भाजपा को किसानों की कितनी कर्द है इस बात का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि किसान सड़कों पर है और आपके कानों पर जूं तक नही रेंग रही।  यह कहना है आठ दिन से रेलवे ट्रैक गुरदासपुर में धरना लगा कर डेरा जमाए किसानों का। जिनका कहना है कि जब तक केंद्र सरकार द्वारा कृषि कानून रद्द नहीं किया जाता तब तक उनका संघर्ष जारी रहेगा।

वहीं इस मौके पर किसान नेता गुरबख्श सिंह सुल्तानी ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा कृषि कानून लागू करके किसानों को मारने की कोशिश की गई है। किसानों को पहले भी पंजाब व केंद्र सरकार द्वारा विरोधी नीतिया लागू करके दबाने का प्रयास किया गया है। उन्होंने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार ने किसानों के विरुद्ध कृषि बिल को पास करके सड़कों पर ला दिया है। किसान केंद्र सरकार के इस बिल को कतई स्वीकार नहीं करेंगे।  बिल को अगर तुरंत रद न किया गया तो किसान केंद्र सरकार के खिलाफ औऱ ज्यादा आक्रोशित होंगे। 

उन्होंने कहा कि आज रेलवे ट्रैक पर बैठे आठ दिन हो गए हैं। लेकिन केंद्र की मोदी सरकार के कानों पर जूं तक नहीं सरक रही परन्तु किसानों को अपना हक लेना आता है। वह अपने हक के लिए केंद्र सरकार के खिलाफ जंग लड़ेंगे। इस मौके पर किसान अमरीक सिंह, जगजीत सिंह, सरवन सिंह, मुख्त्यार सिंह के अलावा अन्य किसान उपस्थित थे।

वहीं दूसरी तरफ किसानों एवं 31 किसान संगठनों के आवाहन पर विभिन्न किसानों की ओर से कानवां के करीब नौैजवान युवाओं की ओर से टोल प्लाजा का घेराव कर वहां पर कोई पर्ची नही कटने दी जा रही ।वहीं रिलांइस पेट्रोल पंपों का भी घेराव वहां पेट्रोल डालने का काम बंद करवा दिया गया है। किसान युवाओं का कहना है कि केंद्र सरकार अगर बहरी है तो वह उन्हे अपनी आवाज सुनानी आती है।

error: Content is protected !!