दुकानदारों के हक में आए बब्बेहाली, कहा दुकानदारों के दुख को समझे प्रशासन, पर्चा तर्कसंगत नही

मंदी की मार झेल रहे दुकानदारों की समस्याओं का हल करे सरकार एवं प्रशासन, बुरे दौर से गुजर रहा व्यापारी 

गुरदासपुर, 6 सितंबर (मनन सैनी)। शहर में शनिवार को दुकानें खोलने की मांग को लेकर रोष प्रर्दशन कर रहे दुकानदारों पर पुलिस प्रशासन की ओर से मामला दर्ज करने पर अकाली दल के जिला प्रधान एवं पूर्व संसदीय सचिव गुरबचन सिंह बब्बेहाली दुकानदारों के हक में खड़े हुए है। उन्होने करीब 30 लोगों पर मामला दर्ज होने की निंदा की है। बब्बेहाली ने कहा कि प्रशासन को दुकानदारों का दुख समझना चाहिए तथा उनकी समस्याओं का कोई हल निकाले। दुकानदार एवं व्यापारी बेहद बुरे दौर से गुजर रहा है, जिसकी आवाज को दबाने के लिए पर्चे की कारवाई तर्कसंगत नही है।

प्रैस ब्यान जारी करते हुए बब्बेहाली ने कहा कि पिछले करीब छह माह से अन्य वर्गो के साथ साथ व्यापारी तथा दुकानदार भी पिस रहा है तथा कोविड़ की मार की शिकार है। हर वर्ग के दुकानदार की आर्थिक स्थिती खस्ता हो गई है। दुकाने खोलने के समय को कम कर सिर्फ पांच दिन खोलने की मंजूरी दी गई है, जिससे दुकानदारों को और भी मंदी झेलनी पड़ रही है। बब्बेहाली ने कहा कि प्रशासन की ओर से धारा 144 इंसाफ के लिए संघर्ष करने वाले लोगों की आवाज को दबाने के लिए लगाई गई है। प्रशासन को धारा 144 के आदेश भी तुरंत वापिस लेने चाहिए। इसी के साथ राज्य सरकार एवं प्रशासन को दुकानदारों का दुख समझते हुए उनके प्रति हमदर्दी भरा रवईया अपना कर उनकी समस्या का हल करना चाहिए। 

error: Content is protected !!