​माझा किसान संघर्ष कमेटी ने ​ऑ​र्डिनैंस के फैसले के विरोध में जेल भरों आंदोलन​ किया शुरु

तीन घंटे डीसी कार्यालय का घेराव कर दिया धरना, मांग पत्र सौंपा, आश्वासन के बाद उठाया धरना

गुरदासपुर, 10 अगस्त। तीन ऑर्डिनेंस के फैसले को रद्द करवाने की मांग को लेकर माझा किसान संघर्ष कमेटी की ओर से जेल भरो आंदोलन शुरू किया गया। सोमवार को किसानों ने तकरीबन तीन घंटे डीसी ऑफिस का घेराव किया। इस दौरान किसानों ने केंद्र और पंजाब सरकार के खिलाफ भड़ास निकालते हुए जमकर नारेबाजी की।इसके बाद डीसी को सरकार के नाम मांग पत्र सौंपा गया और डीसी के आश्वासन के बाद धरना उठा लिया गया। धरने के दौरान भारी पुलिस बल भी तैनात रहा।

किसान नेता दलीप सिंह ने कहा कि केंद्र सरकार तीन ऑर्डिनेंस लागू करके किसानों को मारने की ओर चल रही है। किसान पहले से ही कर्ज में डूबे हुए हैं। ऐसे में फसल की खरीद प्राइवेट एजेंसियों के हवाले करना किसानों को पूरी तरह से दबाने वाला फैसला है। केंद्र और पंजाब सरकार ने जब भी कोई फैसला लिया है । किसानों के खिलाफ ही लिया है। किसान देश का अन्नदाता है। लेकिन दोनों सरकारें अन्नदाता को खत्म करने की ओर चल पड़ी है।किसान पहले से ही जो खुदखुशियां करने को मजबूर हैं उन्हें और सताया जा रहा है।कई बार अपने अधिकारों के लिए सड़के जाम करने व डीसी आफिस का घेराव करने को मजबूर हुए किसानों को फिर से संघर्ष करने की लिए विवश किया जा रहा है।

उन्होंने बताया कि तीन ऑर्डिनेंस के फैसले को रद्द करवाने की मांग को लेकर किसानों द्वारा जेल भरो आंदोलन शुरू किया गया है। जिसके चलते सोमवार को किसानों ने डीसी ऑफिस का घेराव कर डीसी को कहा है कि उन्हें जेलों में बंद करवाया जाए । किसान जेल भरो आंदोलन का कार्यक्रम लगातार चलाएंगे। उन्होंने बताया कि गत दिनों उनकी ओर से पठानकोट में भाजपा के प्रदेश प्रधान अश्वनी कुमार को एक मांगपत्र देने के लिए सैकड़ों किसान गए थे। लेकिन भाजपा प्रधान ने पहले उनको आठ किलोमीटर पैदल घूमाया और बाद में मांग पत्र तो ले लिया लेकिन पुलिस को कहकर 304 किसानों पर फिजिकल डिस्टेंस ना रखने के मामले में पर्चा दर्ज करवा दिया गया। उन्होंने कहा कि इन हरकतों से किसान डरने वाले नहीं है।किसान खुद जिलों में अपनी गिरफ्तारियां देने के लिए आए हैं। उन्होंने कहा कि उनका संघर्ष तब तक चलेगा जब तक तीन ऑर्डिनेंस को रद्द नहीं कर दिया जाता।

Coronavirus Update (Live)

Coronavirus Update

error: Content is protected !!