अकाली दल द्वारा तख्तु माजरा में राजनीतिक कत्ल के लिए जलालपुर के खिलाफ केस दर्ज करने की मांग

राज्यपाल को मांगपत्र देकर उच्चस्तरीय जांच की मांग की

अकाली दल अध्यक्ष 19 दिसंबर को पटियाला में धरने का नेतृत्व करेंगे

चंडीगढ़/11दिसंबरः शिरोमणी अकाली दल तथा भारतीय जनता पार्टी ने आज पंजाब के राज्यपाल वीपी सिंह बदनौर से अनुरोध किया है कि वह कांग्रेस सरकार को घनौर के गांव तख्तु माजरा की जागीर कौर के राजनीतिक कत्ल की उच्चस्तरीय जांच तथा घनौर के विधायक मदन लाल जलालपुर के खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज करने का आदेश देने का निर्देश दें। अकाली दल द्वारा इस संबध में 19 सिंतबर को एसएसपी कार्यालय के आगे धरना दिया जाएगा, जिसका नेतृत्व पार्टी अध्यक्ष सरदार सुखबीर सिंह बादल द्वारा किया जाएगा।

इस संबध में अकाली-भाजपा के संयुक्त प्रतिनिधिमंडल, जिसमें अकाली दल के प्रोफेसर प्रेम सिंह चंदूमाजरा, डाॅ. दलजीत सिंह चीमा तथा भाजपा के हरजीत सिंह ग्रेवाल शामिल थे, ने कहा कि जागीर कौर के पति को एक झूठे केस में फसा कर जेल में भेजने के बाद गांव वालों को इस हद तक इस परिवार का बायॅकाट करने के लिए मजबूर कर दिया गया कि बीमार जागीर कौर को दवाई तक नही मिल सकी। यह कहते हुए कि पीड़ित परिवार पर यह अत्याचार घनौर के विधायक द्वारा करवाया गया था, जिसने जागीर कौर के परिवार को घर तक छोड़ने के लिए मजबूर कर दिया था, अकाली-भाजपा प्रतिनिधिमंडल ने कहा कि जलालपुर तथा तख्तु माजरा गांव के सरपंच हरसंगत सिंह के खिलाफ कत्ल का मुकद्मा दायर किया जाना चाहिए।

प्रतिनिधिमंडल ने जलालपुर द्वारा जागीर कौर के पति अमीर सिंह तथा 40 अन्य गांव वासियों के खिलाफ दर्ज करवाए झूठे केस के बारे भी जानकारी दी। इसने राज्यपाल को यह भी बताया कि जलालपुर ने जिला पुलिस को यह भी निर्देश दिया था कि अकाली कार्यकर्ताओं के घरों की महिलाओं को जबरदस्ती उठा लाओ।

प्रोफेसर चंदूमाजरा ने राज्यपाल से अनुरोध किया कि वह पंजाब सरकार को गांव तख्तु माजरा के 40 व्यक्तियों के खिलाफ दर्ज किए झूठे केस तुरंत वापिस लेने तथा गांव में कानून-व्यवस्था कायम करने का निर्देश दें।

प्रतिनिधिमंडल के सदस्यों में शामिल हरजीत सिंह ग्रेवाल जलालपुर द्वारा की जा रही अवैध गतिविधियों की जानकारी दी, जिनमें क्षेत्र में एक रेत माफिया चलाना भी शामिल है, जिस द्वारा माईनिंग विभाग के जनरल मैनेजर तथा मीडिया कर्मियों से मारपीट की जा चुकी है। उन्होने यह भी बताया कि जलालपुर द्वारा हरियाणा से नाजायज शराब की भी तस्करी करने के अलावा क्षेत्र में गुंडागर्दी भी की जा रही है।

प्रतिनिधिमंडल के बाकी सदस्यों में सुरजीत सिह रखड़ा, सुरजीत सिंह गढ़ी, गुरप्रीत सिंह राजूखन्ना, हरविंदर सिंह हरपालपुर तथा विनीत जोशी शामिल थे।

error: Content is protected !!