राजस्व मंत्री ने शहीदों के पारिवारिक सदस्यों को नियुक्ति पत्र सौंपे

अपनी जानें न्योछावर करके देश की सरहदों की सुरक्षा करने वाले शहीदों के हम हमेशा कजऱ्दार रहेंगे – कांगड़

चंडीगढ़, 30 जून:अपनी जानें न्योछावर करके देश की सरहदों की सुरक्षा करने वाले शहीदों के हम हमेशा कजऱ्दार रहेंगे। यह बात राजस्व, पुनर्वास और आपदा प्रबंधन मंत्री स. गुरप्रीत सिंह कांगड़ ने आज सैक्टर-39, चंडीगढ़ में स्थित अपनी रिहायश में तीन शहीदों के पारिवारिक सदस्यों को नियुक्ति पत्र सौंपने के उपरांत कही।

राजस्व मंत्री ने मेजर रवि इन्द्र सिंह संधू, जो यू.एन. शांति मिशन, दक्षिणी सुडान में तारीख़ 6 नवंबर, 2019 को ड्यूटी निभाते हुये शहीद हो गए थे, की पत्नी श्रीमती तनवीर कौर निवासी बठिंडा और शहीद इंस्पेक्टर-कम कंपनी कमांडर, रघवीर सिंह, सी.आर.पी.एफ-74 बटालियन, जो जि़ला सुकमा (छत्तीसगढ़) में 24 अप्रैल, 2017 को नकसलवादियों के साथ मुकाबला करते हुए शहीद हो गए थे, के पुत्र श्री अमृतबीर सिंह निवासी अमृतसर, इन दोनों को राजस्व विभाग में तहसीलदार के तौर पर भर्ती सम्बन्धी नियुक्ति पत्र सौंपे जबकि शहीद नायक मनिन्दर सिंह, 3-पंजाब रैजिमैंट, जो तारीख़ 19 नवंबर, 2019 को लेह लद्दाख़ साईड ग्लेशियर तैनाती के दौरान हिमस्खलन के कारण शहीद हो गए थे, की पत्नी श्रीमति अकविन्दर कौर निवासी अमृतसर को नायब तहसीलदार के तौर पर भर्ती सम्बन्धी नियुक्ति पत्र दिया।

स. कांगड़ ने इस मौके पर पंजाब सरकार की शहीदों के परिवारों के कल्याण के लिए वचनबद्धता को दोहराते हुये कहा कि राज्य सरकार शहीदों के परिवारों की हर संभव मदद और सहयोग के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि देश को अपने महान सपूतों पर गर्व है, जिन्होंने देश की सरहदों की सुरक्षा करते हुये अपना बलिदान दिया। उन्होंने कहा कि पंजाब सरकार ने देश की सुरक्षा करते हुये शहीद होने वाले जवानों के लिए एक्स-ग्रेशिया राशि हाल ही में बढ़ा कर 10 लाख रुपए से 50 लाख रुपए कर दी है।
इस मौके पर विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री विशवाजीत खन्ना और सचिव श्री मनवेश सिंह सिद्धू भी मौजूद थे।

Coronavirus Update (Live)

Coronavirus Update

error: Content is protected !!