हमले के डर से रावी में कूदा युवक बहा, 4 नामजद,पठानकोट के गांव गज्जू जगीर का मामला,

नवदीप शर्मा

पठानकोट। मामूली विवाद के बाद 4 लोगों के हमले में एक युवक की जान चली गई। हमले में मृतक का भाई और भतीजा भी घायल है। दोनों का ईलाज पठानकोट के निजी अस्पताल में चल रहा है। मामला पठानकोट के गांव गज्जू जगीर का है।

आरोपियों की पहचान तारागढ़ निवासी राकेश कुमार, डिंपल, पंकज कुमार और रत्नगढ़ निवासी डिंपल कुमार के रूप में हुई है। जबकि मृतक राकेश कुमार गांव गज्जू जगीर का रहने वाला था। पुलिस ने आरोपियों पर कत्ल समेत अन्य धाराओं के तहत मामला दर्ज कर 24 घंटे में 2 आरोपियों को गिरफ्तार किया। जबकि 2 आरोपी अभी भी फरार हैं। हालांकि, मृतक की लाश अभी तक मिल नहीं पाई है। मृतक के भाई ज्योति सिंह ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि आरोपी उनके गांव के पास पोल्ट्री फार्म चलाते हैं और रोजाना ऊंची आवाज में गाने लगाकर गांव का माहौल खराब करते थे।

18 मई को राकेश अपने साथियों के साथ पोल्ट्री फार्म गया और आरोपियों को समझाने की कोशिश की पर उक्त आरोपियों ने उस दौरान भी उनके साथ हाथापाई की। लेकिन कुछ लोगों ने बीच बचाव कर मामला शांत करवाया। मंगलवार देर शाम उक्त आरोपी गांव गज्जू जगीर की क्रिकेट ग्राउंड में हथियारों सहित आए और वहां क्रिकेट खेल रहे राकेश, ज्योति और भतीजे जसवीर सिंह पर हमला कर दिया। राकेश कुमार पर जब कुछ वार हुए तो वह अपनी बचाने के लिए पास ही बहते रावी दरिया में कूद गया। हमलावर दरिया के किनारे खड़े रहे। तेज बहाव के कारण राकेश बाहर आने लगा तो उक्त लोगों ने फिर से उसे दरिया में धकेल दिया।

काफी देर तक तेज बहाव में जद्दोजहद के बाद घायल राकेश कुमार थक कर बह गया। जिसके बाद आरोपी फरार हो गए। पुलिस ने टीमें गठित की और बुधवार दोपहर तक 2 लोगों को गिरफ्तार किया। एसपी इन्वेस्टिगेशन पीएस विर्क का कहना है कि 2 आरोपियों डिंपल और पंकज को गिरफ्तार किया गया है, जल्द ही बाकी आरोपियों को भी पकड़ा जाएगा। उन्होंने बताया कि लाश की खोज के लिए गोताखोर लगाए हैं और हेडवर्कस से रावी के पानी का बहाव घटाया गया है।

Coronavirus Update (Live)

Coronavirus Update

error: Content is protected !!