राहत-कोरोना पाॅजिटिव मां बाप तथा अन्यों के साथ आईसोलेशन वार्ड में रहने पर भी नैगेटिव ही रहा पांच साल का बच्चा,सिवल अस्पताल गुरदासपुर से 9 मरीज ठीक होकर घर लौटे

पॉजिटिव मां के साथ सोने, खाना खाने पर भी नही हुआ कोरोना पॉ​जिटिव, दस पाॅजिटिव मरीजों के साथ रह कर भी दो बार किए गए टैस्ट में पाया गया नैगेटिव

ठीक हुए सभी श्रदालुओं ने प्रशासन की ओर से किए गए प्रंबधों पर जताई संतुष्टी, मंत्री रंधावा तथा विधायक समेत प्रशासन ने मिलकर किया घर रवाना

मनन सैनी
गुरदासपुर। सिवल अस्पताल गुरदासपुर के आईसोलेशन वार्ड में पिछले 15 दिनों से कोविड़-19 संक्रमित मां बाप तथा अन्य संक्र​मित लोगो के साथ संपर्क में रहने के बावजूद भी एक पांच साल का बच्चा नैगेटिव ही पाया रहा। बच्चा अपने परिवार के साथ श्री हजूर साहिब से दर्शन कर वापिस लौटा था तथा इसके माता पिता समेत परिवार के चार सदस्य संक्रमित पाए गए थे। जिन्हे संक्रमित पाए जाने पर सिवल अस्पताल के आईसोलेशन वार्ड में रखा गया था।

हालाकि एसएमओ डॅा चेतना का कहना है कि प्रशासन की ओर से बच्चों को अलग रखने के लिए उनके परिजनों को कहा गया परन्तु न तो परिवार माना और न ही बच्चा। जिसके चलते परिवार की मर्जी पर नैगेटिव बच्चा भी अपने पॅाजिटिव मां बाप तथा परिवार के साथ गुरदासपुर में बने आईसोलेशन वार्ड में रखा गया। प्रशासन की ओर से दो बार टैस्ट नैगेटिव पाए जाने के बाद गुरुवार को 9 ठीक हुए मरीजों को सकुशल घर वापिस भेजा गया । जिसमें यह बच्चा भी शामिल था।

गौर रहे कि इस बच्चे के भी निरंतर मां बाप के साथ ही टैस्ट किए गए । जिसमें हर बार यह बच्चा नैगेटिव पाया गया। बच्चे के पिता ने द पंजाब वायर के साथ फोन पर बातचीत करते हुए बताया कि बच्चा अपनी मां के साथ ही सोता था तथा उनके साथ ही खाना खाता था। जिस वार्ड में उन्हे रखा गया था वहां करीब 10 अन्य पॅाजिटिव मरीज ओर भी थे। परन्तु फिर भी बच्चे की रिपोर्ट नैगेटिव ही पाई गई। उन्होने बताया कि आईसोलेशन वार्ड में वह हर वक्त मास्क पहन कर रखते थे।

वहीं इस संबंधी जानकारों का कहना है कि बच्चे की इम्यूनिटी सिस्टम संबंधी जांच परख करने की आवश्यकता है जिससे हो सकता इससे शोधकर्ताओं को कोई जानकारी मिल सके।

वहीं दूसरी तरफ गुरुवार को कुल 9 ठीक हुए पाॅजिटिव मरीजों की दूसरी रिपोर्ट नैगेटिव आने के बाद उन्हे आईसोलेशन वार्ड से छुट्टी दे दी। जिस संबंधी जानकारी देते हुए डीसी गुरदासपुर मोहम्मद इश्फाक ने बताया कि ठीक होने वाले मरीजों श्रदालु तथा ड्राईवर थे तथा श्री हजूर साहिब से लौटे थे। जबकि एक मरीज गुरदासपुर के संत नगर निवासी समाज सेवी है।

वहीं डीसी गुरदासपुर ने बताया कि जिले में अब कुल 123 कोरोना पीडितों में से एक की मौत हो चुकी है। जबकि गुरुवार को 9 पीड़ितों की दूसरी रिपोर्ट नैगेटिव पाए जाने के बाद अब 113 पीड़ित शेष रह गए है। उन्होने कहा कि जल्द सभी की रिपोर्ट दोबारा आ जाएगी। उन्होने जिला निवासियों को अपील करते हुए कहा कि वह कर्फ्यू के दौरान घरों में रहने को प्राथमिकता दें और जरुरी काम करने के लिए ही बाहर निकले।

इस मौके पर घरों से वापिस लौट रहे श्रदालुओं ने जिला प्रशासन की पूरी टीम का धन्यवाद करते हुए कहा कि जब वह श्री हजूर साहिब, नांदेड से गुरदासपुर लौटे थे तो उनकी हर सुख सुविधा का ख्याल रखा गया। उन्होने डाक्टरों की टीम समेत स्टाफ का भी पूरा ध्यान रखने के लिए धन्यवाद किया।

इस मौके पर कैबिनेट मंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा की ओर से घर जाने वाले श्रदालुओं को शिरोपा डाल कर सम्मनित किया गया तथा आईसोलेशन वार्ड में तैनात मैडिकल स्टाफ और पैरा मेडिकल टीम को बधाई दी गई। इस मौके पर उनके साथ गुरदासपुर के विधायक बरिंदरमीत सिंह पाहड़ा ने भी शुभकामनाएं दी तथा अरदास की। इस मौके पर एसएसपी स्वर्णदीप सिंह, जिला प्लानिंग कमेटी के चेयरमैन सतनाम सिंह निज्जर, एडीसी तेजिंदर पाल सिंह, एसडीएम गुरदासपुर सकत्तर सिंह बल, रमन कोछड़, सिवल सर्जन डा किशन चंद, एसएमओ डा चेतना आदि लोग मौजूद थे।

Thepunjabwire
  • 233
  • 51
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    284
    Shares
error: Content is protected !!