ऑनर किलिंग – सीएम सिक्योरिटी का जवान, पिता, ताई गिरफ्तार

युवती की हत्या कर शव जला डाला, पांच नामजद, सुबूत मिटाने को रात दो बजे कर दिया था दाह संस्कार
डाॅ अदिति बख्शी

गढ़शंकर ( होशियारपुर  )  गांव सौली में 26 अप्रैल को रात के दो वज युवती का शव जलाने के मामले में गढ़शंकर पुलिस ने युवती की मां, चाचा, दो चचेरे भाईयों व एक अन्य युवक के खिलाफ मामला दर्ज किया है। इस मामले में मृतका की माता, चाचा व  एक चचेरे भाई को गिरफ्तार कर लिया है जबकि एक चचेरा भाई व उसका दोस्त फरार है। गिरफ्तार चचेरा भाई पुलिसकर्मीहै व मुख्यमंत्री की सुरक्षा में तैनात था। पुलिस की पूछताछ में परिवार वालों ने दावा किया था कि लडक़ी की मौत हर्ट अटैक से हुई है और कोरोना के चलते सुवह जल्दी संसकार किया था।

 गांव सौली की बलविंदर कौर पत्नी स्वर्गीय गुरदियाल सिंह  ने 22 अप्रैल को पुलिस थाने में शिकायत दी थी कि उसकी उन्नीस वर्षीय लडक़ी जसप्रीत कौर विना बताए कहीं चली गई है और जसप्रीत कौर के जाने के पीछे परिवार को गांव भज्जलां के अमनप्रीत सिंह उर्फ अमन पुत्र जुझाार सिंह पर शक्क था। लेकिन तेईस अप्रैल को बलविंदर कौर ने पुलिस को लिखती सूचित कर दिया कि उसकी लडक़ी जसप्रीत कौर गढ़शंकर रेलवे स्टेशन के पास से किमल गई और अव घर पहुंच गई है

 लेकिन इस घटनाक्रम से जसप्रीत कौर की मां बलविंदर कौर, चाचा सतदेव पुत्र मेहर चंद, चचेरा भाई शिवराज उर्फ मनी पुत्र सतदेव च गुरदीप पुत्र बलवंत निवासी सौली व लाल पुत्र महिंद्र निवासी बीरमपुर खफा थे। लिहाजा 25 और 26 अप्रैल की रात को जसप्रीत कौर की मां बलविंदर कौर के साथ मिलकर शिवराज उर्फ मनी व लाला  को नींद की गोलियां दे दी और जसप्रीत कौर जव सौ गई तो उसका गला घोंट कर मार दिया। जिसके बाद रात दो वजे उन्होंने ने चाचा सतदेव व चचेरे भाई गुरदीप के साथ मिलकर जसप्रीत कौर के शव को जलाकर सबूत मिटाने की कोशिश की। जिसकी सूचना किसी व्यक्ति ने पुलिस को दी थी तो एसएचओ ईकवाल सिंह ने मौके पर पहुंच कर पूरी जांच की और जसप्रीत कौर की मां बलविंदर कौर, चाचा सतदेव, चचेरे भाई गुरदीप व श्विराज उर्फ मनी तथा मनी के दोस्त लाला के खिलाफ धारा 302, 201 व 120 वी तहत मामला दर्ज कर लिया है।

एसएचओ ईकवाल सिंह:  जसप्रीत कौर की हत्या के जिन पांच लोगो के खिलाफ मामला दर्ज किया गया । उन्में से लडक़ी मां बलविंदर कौर, चाचा सतदेव व चचेरे भाई गुरदीप को ग्रिफतार कर लिया गया है जबकि लडक़ी का चचेरा भाई शिवराज उर्फ मनी व उसका दोस्त लाला फरार है। आरोपियों ने लडक़ी हत्या कर शव को जला कर सबूत मिटाने की कोशिश की बात कबूल ली है।

Thepunjabwire
  • 1
  • 24
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    25
    Shares
error: Content is protected !!