एसडीएम रमन कोछड़ को राज्यपाल ने डेपो मुहिम के तहत सराहनीय सेवाओं देने पर किया सम्मानित

गणतंत्र दिवस के मौके पंजाब के राज्यपाल ने किया सम्मानित

गुरदासपुर। पंजाब सरकार द्वारा नशा मुक्त समाज की सृजना के लिए प्रदेश भर में शुरु की गई नशा रोकू अफसर मुहिम जिला प्रशासन गुरदासपुर द्वारा सफलतापूर्वक काम किया जा रहा है। लोगों को नशे के दुष्प्रभावों को निचले स्तर पर जागरुक करने के लिए समागम किए गए हैं। जिसके चलते राज्य स्तरीय गणतंत्र दिवस मौके राज्यपाल वीपी सिंह बदनौर ने डेपो मुहिम के तहत सराहनीय सेवाओं के बदले नोडल अफसर कम सहायक कमिश्नर कम एसडीएम दीनानगर रमन कोछड़ को सम्मानित किया है।

एसडीएम कोछड़ ने बताया कि डीसी विपुल उज्जवल के नेतृत्व में नशे के खिलाफ जागरुक करने के साथ साथ जो लोग किसी के कारण नशे के जाल में फंस गए हैं, उनका मुफ्त इलाज करवाने के लिए जागरुक किया जा रहा है। जिला प्रशासन द्वारा सामूहिक सहयोह से इस सामाजिक बुराई को समाज से जड़ से खत्म करने के लिए प्रयास किए जा रहे हैं।

जिले अंदर वालंटियर की रजिस्ट्रेशन की जा रही है। जिसके तहत पुलिस जिला गुरदासपुर ने 16038 वालंटियर,पुलिस जिला बटाला द्वारा 17603 वालंटियर कुल 33641 वालंटियर रजिस्ट्रड किए गए हैं। इनमें विभिन्न सरकारी विभागों के अधिकारी कर्मचारी लगभग 14500 हैं, में से 9101 बतौर डेपो रजिस्ट्रड हैं। इसके अलावा समूह बीडीपीओज को भी हिदायत की गई है कि वह हरेक गांव के सरपंच व सदस्यों को डेपो में रजिस्ट्रड करवाएं। जिले में कुल 80 मास्टर ट्रेनरों द्वारा नशे के खिलाफ जागरुकता अभियान चलाया जा रहा है। जिले में दस ओट सेंटर चल रहे हैं। जिसमें 12462 नशा पीडि़त मरीजों का सफल इलाज किया जा रहा है।

error: Content is protected !!