गुमशुदगी के पोस्टर लगने के बाद गुरदासपुर में आए सांसद सनी देओल

जिला​ विकास तालमेल तथा निगरान कमेटी की मीटिंग में लिया हिस्सा, केंद्रीय मंत्री सोम प्रकाश ने की अध्यक्षता

मनन सैनी

गुरदासपुर।  लोकसभा हलका गुरदासपुर के हलका पठानकोट में लापता के पोस्टर लगने के उपरांत आखिरकार अभिनेता से नेता बने सांसद सनी देओल अचानक सोमवार को गुरदासपुर पहुंचे। स्टारडम के भरोसे जीतने वाले सांसद के लिए लोगो के साथ जुड़ने में और कोई नही बल्कि उन्ही का स्टारडम आडे आ रहा है। जिसके चलते सांसद के आगमन की सूचना ​किसी को नही ​दी गई, जिसमें मी​ड़िया भी शामिल रहा।

​सनी देओल स्थानीय पंचायत भवन में जिला विकास तालमेल तथा निगरान कमेटी में शिरकत करने आए थे जिसके वह को-चेयरमैन भी है। मीटिंग की अध्यक्षता केंद्रीय मंत्री सोमप्रकाश उक्त कमेटी के चेयरमैन की ओर से की गई।  जिसमें गुरदासपुर के डिप्टी कमिशनर विपुल उज्जवल, एसएसपी स्वर्णदीप सिंह ​सहित अन्य उच्च अधिकारी मौजूद थे। 

सनी देओल की अधिकारियों के साथ यह प्रथम बैठक थी। सुबह 10:30 से लेकर करीब 2:00 बजे तक चली इस बैठक में सांसद सनी देओल ने हलका गुरदासपुर में चल रहे विकास कार्यों संबंधी विभिन्न विभागों के अधिकारियों के साथ बातचीत की और विकास कार्यों का निरीक्षण भी किया। इस संबंधी सनी देओल ने अधिकारियों को कहा कि यह उनकी पहली बैठक है तथा वह चाहते है कि जो लोक भलाई स्कीमें लागू की गई है उनका जरुरतमंद लाभपात्रियों को लाभ जरुर पहुंचे। उनका मुख्य मकसद यही है कि वह गुरदासपुर लोकसभा हलके के लोगो का सर्वपक्षिय विकास कार्य करें तथा उन्हे स्कीमों का लाभ पहुंचाया जा सके। उन्होने कहा कि सहयोग तथा एक टीम के साथ ही लोगो का विकास किया जा सकता है। 

सनी देओल से फोटो खिंचवाने आए भाजपाई लोटे बेरंग

गुरदासपुर से संबंधित भाजपाई गुलदस्ते लेकर पंचायत भवन में पहुंचे। जिनकी सांसद सनी देओल के साथ फोटो खिचवाने तथा उन्हे गुलदस्ता देने की मांग की। मगर उन्हें सांसद सनी देओल के साथ फोटो खिंचवाना तो दूर की बात उनके पास जाना भी नसीब नहीं हुआ। जिन हाथों से गुलदस्ते लाए गए थे उन्हें हाथों से भाजपाई गुलदस्ते लेकर वापस गए। पुलिस द्वारा कुछ शक भाजपाइयों को पंचायत भवन के अंदर भी जाने से मना किया गया। मगर सनी देओल के साथ फोटो खिंचवाने का जोश ऐसा था वह पुलिस के रोकने के बावजूद भी अंदर धक्के से ही घुस गए।

सांसद सनी देओल को पीड़ित महिलाओं ने दिया मांग पत्र

अधिकारियों के साथ बैठक खत्म करने के बाद जब सांसद सनी देओल पंचायत भवन से बाहर निकल रहे थे तो इस दौरान एनआरआई दूल्हों से पीड़ित महिलाओं ने सांसद सनी देओल को मांगपत्र देकर अपना दुख सुनाना शुरू ही किया था का सनी देओल केवल मांग पत्र लिए और वहां से चल दिए । पीड़ित महिलाएं अपना दुख सुनाती रही लेकिन सनी देओल अपनी गाड़ी में बैठे पंचायत भवन से बाहर चले गए। सनी देओल का यह रवैया महिलाओं को अच्छा नहीं लगा।

बैठक में यह रहे मौजूद

बैठक में डिप्टी कमिश्नर विपुल उज्जवल एडीसी तेजिंदर पाल सिंह संधू एडीसी विकास रणबीर मुधल, एसडीएम सकतर सिंह बल, रमण को छड़ समेत विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।

Coronavirus Update (Live)

Coronavirus Update

error: Content is protected !!