मंडियों में किसानों को पेश आ रही मुश्किलों संबंधी अकाली दल ने राज्यपाल के नाम डीसी को सौंपा मांग पत्र

गुरदासपुर, 24 अप्रैल (मनन सैनी)। मंडियों में बारदाना खत्म होने के चलते किसानों को पेश आ रही मु​श्किलों संबंधी शिरोमणि अकाली दल किसानों के पक्ष में उतर आई तथा शनिवार को जिला प्रधान गुरबचन सिंह बब्बेहाली के नेतृत्व में अकाली नेताओं ने डीसी गुरदासपुर को गर्वनर के नाम मांग पत्र सौंपा।

इस उपरांत पत्रकारों को संबोधित करते हुए बब्बेहाली ने कहा कि मंडियों में बारदाना खत्म होने के चलते एजेंसियों द्वारा खरीद बंद कर दी गई है। वहीं जो गेहूं खरीदी गई है,उसकी लिफ्टिंग नहीं हो रही। जिस कारण मंडियों में गेहूं के अंबार लग चुके हैं। इस कारण किसान बुरी तरह से परेशानी के झमेले में फंस गए हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार के विधायकों व मंत्रियों को अकालियों के खिलाफ झूठे पर्चे करवाने में व्यस्त हैं। जबकि दूसरी तरफ किसानों की सुविधा के लिए मंडियों में कोई प्रयास नहीं किया गया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार के नेता खरीद शुरु होने से पहले लाख दावे कर रहे थे कि मंडियों में गेहूं की खरीद के सभी प्रबंध हैं, मगर अब उनके प्रबंध कहां है। किसानों को सरकार के प्रबंध दिखाई क्यों नहीं दे रहे। उन्होंने कहा कि किसान बुरी तरह से फंस गए हैं। उन्होंने कहा कि पंजाब की कैप्टन सरकार किसान विरोधी है। उन्होंने कहा कि सरकार से किसानों की फसल खरीदी नहीं जा रही।

बब्बेहाली ने कहा कि सरकार ने नया फरमान जारी किया है कि आढ़ती आप खुद बारदाना लें। यह पहली बार हुआ है। आढ़तियों को कहा जा रहा है कि पुराना बारदाना लाकर गेहूं बोरियों में भर लें। एक आढ़तिए ने पुराना बारदाना खरीदा तो उसका रेट काफी अधिक मिला। जिस कारण आढ़ती बारदाना खरीदने को तैयार नहीं है। आढ़ती बोल रहे है कि सरकार बारदाना मंडियों में लाए। उन्होंने कहा कि कांग्रेसी नेताओं ने अपने चहेतों को टेंडर दिए हैं, इनमें से अधिकतर के पास गाड़ियां नहीं है। जिस कारण लिफ्टिंग नही हो रही। उन्होंने कहा कि मंडियों में जो गेहूं आई है, उसका समय पर निवारण करें,ताकि किसान समय पर फ्री होकर घर को जाएं और वह अगली फसल की तैयारी कर सके।

उन्होंने कहा कि गेहूं की सीधी अदायगी किसानों को नहीं हो रही। दो सप्ताह हो गए हैं किसानों को गेहूं बेचे को। मगर अभी तक किसानों के खातों में पेमेंट नहीं आई है। उन्होंने कहा कि पंजाब सरकार भी केंद्र सरकार की नीतियों पर चल कर किसानों को तबाह करने पर तुली हुई है। उन्होंने कहा कि मंडियों में किसानों की हालत तरसयोग बन चुकी है। इस मौके पर पूर्व कैबिनेट मंत्री निर्मल सिंह काहलों, विधायक लखबीर सिंह लोधीनंगल,रविकरण सिंह काहलों, तरलोक सिंह बाठ,गुरइकबाल सिंह माहल,इंद्रजीत सिंह रंधावा, गुरप्रताप सिंह,मंगल सिंह,विजय महाजन,गुरनाम सिंह,बलबीर सिंह बिट्टू, दलबीर सिंह बिल्ला, सर्बजीत सिंह,कुलविंदर सिंह आदि उपस्थित थे।

Print Friendly, PDF & Email
Thepunjabwire
  • 10
  • 70
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    80
    Shares
error: Content is protected !!