कोरोना न्यूज- गुरदासपुर में कोवीशिल्ड़ वैक्सीन हुई खत्म, खात्मे की कगार पर कोवैक्सीन की डोज, जल्द उपलब्ध होगी वैक्सीन -डीआईओ मनचंदा

कोवीशिल्ड़ की दूसरी डोज लेने वाले लोगों को झेलनी पड़ी दिक्कत, भीड़ भी एकत्र हुई और टीका भी न लगा

सरकार के आदेशों के बाद से रिजर्व में नहीं रखते दूसरी डोज के लिए वैक्सीन- डीआईओ

गुरदासपुर, 21 अप्रैल (मनन सैनी)। जिला गुरदासपुर में कोविशिल्ड वैक्सीन की डोज खत्म हो चुकी है तथा कोवैक्सीन की डोज भी खात्मे के कगार पर है। कोविशिल्ड़ वैक्सीन की आखिरी पड़ी 50 डोज बुधवार को लगा दी गई। जिसके उपरांत दूसरी डोज लगवाने आए लोगों को इस संबंधी दिक्कत का सामना करना पड़ा। भारी रिस्क लेकर दूसरी वैक्सीन लगवाने वाले लोगों ने वैक्सीन सैंटरों का भी रुख कर वहां भीड़ बढ़ाई और उन्हे टीका भी न लगा, जिससे वह काफी मायूस हुए।

हालाकि स्वस्थ्य विभाग की ओर से कोविशिल्ड़ खत्म होने के बाद कोवैक्सीन से टीकाकर्ण का काम चलाया गया परन्तु वह भी खात्मे के कगार पर है तथा महज कुछ डोज ही शेष बचे है। हालाकि इस संबंधी अधिकारियों का कहना है कि कोविशिल्ड़ और कोवैक्सीन टीके एक दो दिन में दोबारा आ जाएगें और किसी को परेशानी का सामना नही करना पड़ेगा।

गौर रहे कि जिस भी व्यक्ति को जो पहला टीका लगा है, उसे दूसरी डोज भी उसे टीके से दी जानी है। गुरदासपुर में पहले कोविशिल्ड के टीके लग रहे थे तथा पहले नियमों के अनुसार विभाग की ओर से पहली डोज के बाद से ही दूसरी डोज के संभाल कर रखी जाती थी। परन्तु अब अधिकारियों का कहना है कि स्वस्थ्य विभाग की ओर से आदेश मिलने के बाद उनकी ओर से सारी डोज लगा दी गई। दूसरी डोज न होने के कारण हालाकि डाक्टर यह दिलासा देते नजर आए कि कोविशिल्ड़ की डोज तीन से चार हफ्ते में कभी भी लगवाई जा सकती है। इसलिए दो तीन दिन इंतजार कीजिए। परन्तु इससे टीका लगवाने आए लोग जरुर मायूस हुए।

इस संबंधी जिला टीकाकर्ण अफसर डॅा अरविंद मनचंदा ने इस बात की पुष्टी करते हुए कहा कि उनके पास कोविशिल्ड़ वैक्सीन खत्म हो चुकी है, जिस संबंधी मांग भेजी जा चुकी है। स्टाक न रखने संबंधी उन्होने बताया कि वह पहले दूसरी डोज के लिए स्टाक मेनटेंन कर रखते थे। परन्तु स्वस्थ्य विभाग की ओर से मिले आदेशों के बाद वह डोज भी लगा दी गई। उन्होने बताया कि अभी पहली डोज लेने वालों को कोवैक्सीन लगाई जा रही है और उसकी डोज भी स्टाक में ज्यादा नही है। परन्तु एक दो दिन में वैक्सीन आ जाएगी और सभी को वैक्सीन लगा दी जाएगी तथा किसी को परेशानी नही झेलनी पड़ेगी।

कोरोना से तीन मरीजों की मौत, 162 नए पाजिटिव

वहीं बुधवार को कोरोना से तीन और लोगों की मौत गो गई। जबकि 162 मरीज नए सामने आए हैं। सिविल सर्जन डा.हरभजन ने बताया कि जिले में अब तक 507750 लोगों के कोरोना सैंपल लिए गए हैं। इनमें से 490311 करी रिपोर्ट नेगेटिव मिली है। वहीं 13717 लोग कोरोना पाजिटिव मिले हैं। हालांकि 11951 लोग कोरोना से ठीक भी हो चुके हैं। वहीं 434 लोगों की कोरोना से मौत हो चुकी है। उन्होंने बताया कि 3722 लोगों की कोरोना रिपोर्ट अभी पेंडिंग भी है। उन्होंने बताया कि सिविल अस्पताल गुरदासपुर में 29,अरोड़ा अस्पताल में नौ,सिविल अस्पताल बटाला में 11, अबरोल अस्पताल में छह,केंद्रीय जेल में 26,मिलिट्रि अस्पताल में 17 मरीज आइसोलेट किए गए हैं। जबकि 188 मरीज जिले से बाहर भर्ती हैं। जिले में अब 1332 कोरोना के मरीज अभी एक्टिव हैं।

कफ्र्यू के दौरान घर से बाहर निकल कर आदेशों की उल्लंघना करने मामले में एक व्यक्ति नामजद

कर्फ्यू के दौरान बिना वजह घरों से बाहर निकलने वालों के खिलाफ पुलिस काफी सख्त दिखाई दे रही है। मंगलवार को थाना सिटी की पुलिस ने बिना वजह कफ्र्यू के दौरान घर से बाहर निकल आदेशों की उल्लंघना करने के मामले में एक व्यक्ति को नामजद किया है। एएसआई जसवंत सिंह ने बताया कि वहपुलिस पार्टी सहित रात साढे 11 बजे गश्त कर रहे थे। जब वह बीकानेर चौंक के पास पहुंचे तो चंचल शर्मा पुत्र राज कुमार निवासी मलकपुर (पठानकोट) बिना वजह घूम रहा था। जिसने ऐसा करके डीसी के आदेशों की उल्लंघना की है। जिसको काबू करके मामला दर्ज किया गया। मगर बाद में उसे जमानत पर रिहा कर दिया गया।

Print Friendly, PDF & Email
Thepunjabwire
  • 14
  • 70
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    84
    Shares
error: Content is protected !!