नेशनल लोक अदालत में 1437 केसों में 124 केसों का निवारण

गुरदासपुर,10 अप्रैल (मनन सैनी)। पंजाब कानूनी अथारिटी के कार्यकारी चेयरमैन अजय तिवारी की हिदायतों के अनुसार और जिला व सेशन जज-कम-चेयरपर्सन जिला कानूनी सेवाएं अथारिटी गुरदासपुर रमेश कुमारी की देखरेख में सेशनज डिवीजन गुरदासपुर के अधीन समूह न्यायिक अदालतों द्वारा केसों के निवारण के लिए नेशनल लोक अदालत का आयोजन किया गया। जिसका नेतृत्व जिला व सेशन जज-कम-चेयरपर्सन जिला कानूनी सेवाएं अथारिटी गुरदासपुर रमेश कुमारी ने किया। इस दौरान गुरदासपुर व बटाले के न्यायिक अधिकारियों के करीब पांच लोक अदालत बैंचों का गठन किया गया। लोक अदालत में केसों के निवारण के लिए 1437 केस सुनवाई के लिए रखे गए। जिनमें से 124 केसों का निवारण दोनों पक्षों की आपसी सहमति से करवाया गया और 24976281 रुपए की राशि के अवार्ड पास किए गए।

जज रमेश कुमारी ने बताया कि लोक अदालतों का मुख्य उद्देश्य दोनों पक्षों की आपसी रजामंदी से झगड़ों का निवारण करवाना है ताकि दोनों पक्षों के कीमती समय व धन की बचत हो सकें। उन्होने बताया कि लोक अदालत के जरिए फैसला हुए केस की आगे कोई अपील नहीं हो सकती, क्योंकि लोक अदालत में फैसला दोनों पक्षों की आपसी सहमति से करवाया जाता है। इससे झगड़ा हमेशा के लिए खत्म हो जाता है।

Print Friendly, PDF & Email
Thepunjabwire
  • 9
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    9
    Shares
error: Content is protected !!