प्यार में पड़ी शादीशुदा महिला उडीसा से घर बार छोड़ पाकिस्तानी प्रेमी के लिए बिना पासपोर्ट करतारपुर कारिडोर पहुंची

डेरा बाबा नानक पुलिस ने महिला को काबू कर उससे 25 तोले सोना और 60 ग्राम चांदी के जेवर बरामद किए।

डेरा बाबा नानक पुलिस ने उक्त महिला को उसके पति और पिता को बरामद किए जेवरात समेत हवाले कर किया।

महिला की एक पांच साल की बेटी, पाकिस्तानी युवक और महिला के सोशल मीडिया पर बने संबंध।

गुरदासपुर ,7अप्रैल (मनन सैनी)। प्यार अंधा होता है यह सुना तो था परन्तु इसकी ताजा मिसाल डेरा बाबा नानक में उड़ीसा की रहने वाली एक 25 साल की शादीशुदा महिला को देखने पर मिली। जिसने सोशल मीडिया पर एक पाकिस्तानी युवक से संबंध बनने के बाद इस कधर उक्त युवक के प्यार में अंधी हो गई और सरहदों की परवाह किए बगैर अपना घर–बाहर छोड़, बच्चों की परवाह किए बगैर डेरा बाबा नानक में बने करतारपुर कारिडोर के रास्ते पाकिस्तान जाने का इरादा बना लिया। लेकिन कॉरिडोर पर पहुंची इस महिला को बीएसएफ ने वापिस भेज दिया। बुधवार को इस बात की सूचना मिलने पर उक्त महिला को शक के आधार पर डेरा बाबा नानक पुलिस ने पूछताश के ‌लिए उसे काबू कर लिया। महिला से 25 तोले सोने के गहने और चांदी के गहने भी बरामद हुए हैं जो वह उड़ीसा से लेकर डेरा बाबा नानक पहुंची थी। वहीं पुलिस ने महिला के पति और पिता को डेरा बाबा नानक बुलाकर उसे उसकेे घरवालों के हवाले कर दिया।

इस संबंध में डीएसपी कंवलप्रीत सिंह ने बुधवार कोे बताया कि 25 साल की उड़ीसा की रहने वाली महिला की शादी 2015 उडीसा में ही हुई थी। उसकी 5 साल की एक बेटी भी है। दो साल पहले महिला ने एक मोबाइल पर अजर नाम की एक ऐप डाऊनलोड की और इस ग्रुप में चैट करनी शुरू कर दी। करीब दो साल पहले उक्त महिला अपने ससुराल से अपने मायके आ गई थी औैर मायके पारिवार में रहते हुए उसने ऐप पर पाकिस्तान के इस्लामाबाद के रहने वाले एक युवक से बातचीत शुरू कर दी। एक दूसरे को मोबाइल नंबर दिए जाने के बाद वाट्स ऐप पर दोनों की बातचीत शुरू हो गई। पाकिस्तानी लड़़के ने उसे डेरा बाबा नानक के कॉरिडोर के रास्ते पाकिस्तान पहुंचने के लिए कहा। दोनों की सहमति के बाद महिला मायका घर से दिल्ली,दिल्ली से अमृतसर और अमृतसर से डेरा बाबा नानक पहुंची। उक्त महिला अपने प्लैनिंग के मुतााबिक डेरा बाबा नानक से कारिडोर पहुंची मगर बीएसएफ ने उसे रोका दिया और कहा कि कोरोना की वजह से कारिडोर बंद हैं औैर बिना पोस्पोर्ट के पाकिस्तान जाना असंभव है। इसके बाद शक्की हालत में उक्त महिला को डेरा बाबा नानक पुलिस उसे पूछताश के लिए थाने ले आई।

पूछताश के दौरान एसएचओ डेरा बाबा नानक ने उड़ीसा पुलिस सेे संपर्क किया जहां इस बात का पता चला कि उक्त महिला की संबंधित थाने मेंं लापता होने की इतलाह उसके पति ने 5 अप्रैल 2021 को दर्ज करवाई गई है। जांच पड़ताल के दौरान यह भी पता चला कि उक्त महिला अपने घर से करीब 25 तोले सोना औैर करीब 60 ग्राम चांदी के जेवरात भी साथ लेकर आई है। एसएचओ ने महिला के पारिवारिक सदस्यों से संपर्क कर उनको बुधवार को डेर बाबा नानक बुलाया और उक्त महिला को उसके पति और पिता को बरामद किए जेवरात समेत हवाले कर दिया।

इन्पुट- विनोद सोनी

Print Friendly, PDF & Email
Thepunjabwire
  • 6
  • 70
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    76
    Shares
error: Content is protected !!