छोटा घल्लूघारा स्मारक (काहनूवान) में शहीद परिवार सम्मान समारोह आयोजित, 75 शहीदों के परिवार हुए सम्मानित

खुद को अकेला न समझे शहीद परिवार, सरकार व प्रशासन उनके साथ चट्टान की तरह खड़ा- डीसी मोहम्मद इश्फाक

शहीदों की बदौलत राष्ट्र की एकता व अखंडता बरकरार-एसएसपी राजिंदर सोहल

गुरदासपुर 21 फरवरी (मनन सैनी)। जिला प्रशासन की ओर से शहीदों को श्रदांजलि देने हेतू काहनूवान छंब में स्थित छोटा घल्लूघारा स्मारक में शहीद परिवार सम्मान समारोह आयोजित किया गया। जिसमें 75 शहीदों के परिवारों को सम्मानित किया गया। इस मौके पर गुरदासपुर के डिप्टी कमिशनर मोहम्मद इश्फाक, गुरदासपुर के एसएसपी डॉ राजिंदर सिंह सोहल, जिला रक्षा सेवाएं भलाई विभाग के डायरेक्टर कर्नल जी.एस. गिल, शहीद सैनिक परिवार सुरक्षा ​परिषद के महासचिव कुंवर रविंदर सिंह विक्की, जीओजी टीम के जिला प्रमुख ब्रिगेडियर जी.एस.काहलों, उप प्रमुख कर्नल डी.एस.काहलों, आदि कई अहम शख्सियतें मौजूद थी। इस मौके पर जिला हैरिटेज सोसायटी की ओर से शहीद परिवारों को जिले के एतिहासिक और धार्मिक स्थानों की यात्रा के लिए मुफ्त यात्रा भी करवाई गई।

शहीदों की याद में रखे सुखमणि साहिब के भोग डालने के बाद शहीद परिवार सम्मान समारोह को संबोधित करते हुए डीसी मोहम्मद इशफाक ने कहा कि शहीदों की जन्मस्थली जिला गुरदासपुर की वीरभूमि को यह सम्मान प्राप्त है कि उसने अपने असंख्य लाल देश की बलिवेदी पर कुर्बान किए हैं। उन शूरवीरों की शहादत की गरिमा को बहाल रखने के लिए आज 75 शहीद परिवारों को इस एतिहासिक जगह के दर्शन करवाएं गए हैं। उन्होनें कहा कि शहीदों के अमिट बलिदानों का कर्ज नहीं चुकाया जा सकता। अगर यह न होते तो देश सुरक्षित नहीं रह सकता। इस सीमा प्रहरियों की बदौलत ही देशवासी चैन से सो रहे हैं। उन्होंने कहा कि जो देश व कौमें अपने शहीदों को भुला देते हैं, उनका अस्तित्व समाप्त हो जाता है। डीसी ने कहा कि शहीद परिवार खुद को अकेला न समझें। सरकार व जिला प्रशासन चट्टान की तरह उनके साथ खड़ा है। उन्होंने कहा कि शहीद परिवारों की समस्याओं के हल के लिए जिला प्रशासन की ओर से हर महीने शहीद परिवारों से बैठक की जाएगी। इस मौके पर कैबिनेट मंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा द्वारा मार्कफैड की तरफ से शहीद परिवारों के लिए गिफ्ट पैक भेजने पर डीसी ने रंधावा का भी आभार व्यक्त किया। उन्होने बताया कि यह कार्यक्रम 14 फरवरी को होना था, मगर आचार संहिता लागू होने की वजह से इसे आज करवाया गया है। उन्होंने कहा कि हर साल 14 फरवरी को शहीदों की याद में ऐसा समारोह करवाया जाएगा।

शहीदों की बदौलत राष्ट्र की एकता व अखंडता बरकरार-एसएसपी

एसएसपी डा. राजिंदर सिंह सोहल ने कहा कि शहीदों की बदौलत ही आज राष्ट्र की एकता व अखंडता बरकरार है। हम सब देशवासियों का यह फर्ज बनता है कि इनके परिजनों को मान सम्मान देकर उनके हौसलों को बुलंद रखें। उन्होंने कहा कि जिला पुलिस हर शहीद परिवार की समस्याओं को प्राथमिकता के आधार पर हल करने के लिए वचनबद्ध है।

शहीद परिवारों के लिए मसीहा बने डीसी-कुंवर विक्की

कुंवर रविंदर विक्की ने परिषद की तरफ से डीसी मोहम्मद इशफाक व एसएसपी डा. राजिंदर सिंह सोहल का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि इतनी संख्या में शहीद परिवारों को इस एतिहासिक स्थल के दर्शन करवा व उनके सम्मान में शहीद परिवार सम्मान समारोह का आयोजन करवा इन परिवारों को रिसते जख्मों पर मरहम लगाने का जो प्रयास किया है, इससे शहीद परिवारों का मनोबल ऊंचा हुआ है। उन्होंने कहा कि डीसी मोहम्मद इशफाक शहीद परिवारों के लिए एक मसीहा बनकर उभरे हैं, जो हमेशा इन परिवारों के मान सम्मान की बहाली के लिए प्रयासरत है।

इस मौके पर छोटा घल्लूघारा स्मारक के प्रधान पूर्व विधायक मास्टर जौहर सिंह, स्मारक के इंचार्ज दमनजीत सिंह, जिला हेरीटेज सोसायटी के महासचिव प्रो. राज कुमार, जिला रक्षा सेवाएं भलाई विभाग कार्यालय के सुपरिटेंडेंट सुदेश ठाकुर, फील्ड अधिकारी सूबेदार जगदीश सिंह, कैप्टन सकत्तर सिंह, सूबेदार मेजर सिंह आदि उपस्थित थे।

Thepunjabwire
  • 22
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    22
    Shares
error: Content is protected !!