सावधान- डीसी इश्फाक ने जताई चिंता, शहर गुरदासपुर में लोग नही कर रहे सहयोग, हालात ऐसे ही रहे तो लगाना पड़ सकता है लाॅकडाउन, लोगों से की टैस्टिंग करवाने की अपील

बुधवार को दो संक्रमित महिलाओं की मौत, 171 मरीज नए मरीज पाए गए संक्रमित ,

गुरदासपुर, 9 सितंबर (मनन सैनी)। जिले के डिप्टी कमिशनर मोहम्मद इश्फाक ने शहर गुरदासपुर में लोगो की ओर से सहयोग न मिलने तथा केसों में हो रहे इजाफे को लेकर आज अपनी चिंता जताई। इसी के साथ उन्होने राजनितिज्ञों, समाज सेवी संस्थाओं, व्यापार मंडलों से अपील करते हुए लोगो को ज्यादा से ज्यादा टैस्टिंग के लिए प्रेरित करने के लिए कहा। अन्यथा उन्होने कहा कि गुरदासपुर में बिमारी को रोकने के लिए उन्हे अगामी समय में लाॅकडाउन या कर्फ्यू लगाना पड़ सकता है। डीसी फेसबुक लाईव कोविड़ अपडेट पर लोगो को संबोधन कर रहे थे।

डिप्टी कमिशनर इश्फाक ने कहा कि इस समय गुरदासपुर में कोरोना अपनी चरम सीमा की ओर बढ़ रहा है। गुरदासपुर शहर में अचानक पिछले तीन चार दिन से पाॅजिटिविटी रेट बेहद ज्यादा हो गया है तथा पाॅजिटिविटी रेट 15 प्रतिशत पर पहुंच गया है। आईआईटी चेन्नई में गुरदासपुर शहर का कोविड़ स्कोर पूरे जिले से ज्यादा चल रहा है। साफ्टरवेयर पर 44 टावरों में कोविड़ स्कोर 250 से 2100 के करीब चल रहा है। इसीलिए फ्लू कार्नर पर जो भी मरीज जा रहा है पाॅजिटिव पाया जा रहा है।इसे रोकना बेहद जरुरी है।

डीसी ने कहा परन्तु स्वस्थ्य विभाग की टीमें जो सैंपलिंग के लिए जा रही है, उन्हे सहयोग नही किया जा रहा। उन्होने कहा कि बटाला, फतेहगढ़ चूड़िया में भी हालात खराब हुए थे परन्तु वहां लोगो के सहयोग से बिमारी पर पकड़ बना ली गई। जिसके चलते फतेहगढ़ चूडिया में कर्फ्यू तक लगाना पड़ा। परन्तु गुरदासपुर में लोग टैस्टिंग करवाने में गुरेज कर रहे है। प्रशासन की ओर से व्य़ापार मंडल से बात की है परन्तु अभी अच्छा रिस्पोंस नही मिला। टैस्टिंग से डरने का क्या कारण है पता नही, क्योंकि अब तो सभी को घर में आईसोलेट किया जा रहा है। उन्होने कहा कि कादरी मोहल्ला, गीता भवन आदि शहर में कोविड़ बुरी तरह फैल रहा है और अगर उसे रोकना है तो लगातार सैंपल बढ़ाने पड़ेगे। उन्होने साफ कहा कि अगर केस इसी तरह बढ़ता रहा तो उन्हे शहर गुरदासपुर में लाॅकडाउन लगाना पड़ सकता है, कर्फ्यू लगाना पड़ सकता है। ।

बुधवार को दो संक्रमित महिलाओं की मौत, 171 मरीज नए मरीज पाए गए संक्रमित ,

वहीं दूसरी तरफ जिला गुरदासपुर में बुधवार को दो संक्रमित महिलाओं की अमृतसर के जीएमसी में मौत हो गई। मरने वालों में एक 80 साल की महिला बहरामपुर के गांव ओगरा की निवासी थी जबकि दूसरी महिला 88 साल की थी तथा चक्कशरीफ काहनूवान हलके से संबंधित थी। इसके उपरांत कुल संक्रमित मतृकों की संख्या 72 हो गई है।  वहीं बुधवार को 171 लोगों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव पाई गई है। ज​बकि 54 लोग ठीक होकर घरों को लौटे हैं। जिले में अब 1083 केस एक्टिव हैं।  अब तक जिले में 87204 लोगों के कोरोना सैंपल लिए गए हैं। जिनमें से 83080 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आ चुकी है। जबकि 3443 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। जिनमें से 2290 लोग ठीक हो चुके हैं। जबकि 72 लोगों की कोरोना से मौत हो गई है। वहीं अब जिले में 1083 कोरोना के केस एक्टिव हैं।

Print Friendly, PDF & Email
Thepunjabwire
  • 70
  • 70
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    140
    Shares
error: Content is protected !!