आम आदमी पार्टी ने गुरदासपुर में किया जिला स्तरीय रोष प्रर्दशन, मंत्री धर्मसोत का जलाया पुतला

 धर्मसोत के साथ साथ बादल सरकार के कार्यकाल की भी जांच हो- आप 

गुरदासपुर।अनुसूचित जाति से संबंधित लाखों विद्यार्थियों की पोस्ट मैट्रिक स्कालरशिप स्कीम में घोटाला करने के विरोध में आम आदमी पार्टी की ओर से आम नेता कमलजीत सिंह के नेतृत्व में कैबिनेट मंत्री साधू सिंह धर्मसोत का डाकखाना चौक में पुतला जलाकर जमकर नारेबाजी की।

डा. कमलजीत सिंह ने मुख्यमंत्री पर आरोप लगाया कि वह विद्यार्थियों की वजीफा स्कीम में सीधा 63.91 करोड़ रुपए हड़पने वाले अपने भ्रष्ट मंत्री धर्मसोत को बर्खास्त करने से बचाने के लिए सभी नैतिक और प्रशासनिक हदें लांघ रहे है।‘आप’ नेताओं ने केंद्र सरकार द्वारा इस वजीफा घोटाले की विभागीय जांच दो अधिकारियों को सौंपे जाने पर टिप्पणी करते हुए कहा कि जांच कोई भी एजैंसी करे परंतु जांच हाईकोर्ट के मौजूदा जजों की निगरानी में समयबद्ध हो और इस जांच का दायरा 2012-13 तक बढ़ाया जाए, क्योंकि बादलों की सरकार के समय भी पोस्ट मैट्रिक स्कालर्शिप स्कीम में 1200 करोड़ रुपए से अधिक की गड़बड़ी हुई है।

‘आप’ नेताओं ने कहा कि साधु सिंह धर्मसोत लाखों होनहार अनुसूचित विद्यार्थियों के भविष्य का हत्यारा है। छात्राओं की वजीफा राशि में से सीधा 63.91 करोड़ रुपए हड़पने वाले मंत्री साधु सिंह धर्मसोत के खिलाफ एडिशनल मुख्य सचिव द्वारा जितने दस्तावेजी सबूतों के साथ सरकार को जांच रिपोर्ट सौंपी है, उसकी गंभीरता को देखते हुए इस भ्रष्ट मंत्री साधु सिंह धर्मसोत को पांच मिनटों में मंत्रिमंडल से बर्खास्त करके फौजदारी मुकद्दमा दर्ज कर लिया जाना चाहिए था। ताकि अबतक मंत्री और उसका पूरा भ्रष्ट गिरोह गिरफ्तार कर लिया जाता, परंतु मुख्यमंत्री धर्मसोत को बर्खास्त करने के बजाए उसको ‘क्लीन चिट’ की प्रक्रिया शुरू कर चुका है।‘आप’ नेताओं ने बताया कि जब तक कांग्रेस धर्मसोत को बर्खास्त करके पूरे ‘गिरोह’ के विरुद्ध फौजदारी मुकद्दमा दर्ज नहीं करती तब तक ‘आप’ का संघर्ष जारी रहेगा। 

इस मौके पर शैरी कलसी,हकीकत राए, कश्मीर सिंह वाहला,धवनदीप सिंह,गुरप्रीत सिंह, भारत भूषण,एसपी गोसल, अमरनाथस,राजेश कुमार, ठाकुर तरसेम सिंह,विनोद कुमार,जगजीवन सिंह,बलबीर सिंह,पीटर चीदा, सूबेदार कुलवंत सिंह,जसवंत सिंह,लखविंदर सिंह आदि उपस्थित थे।

Print Friendly, PDF & Email
Thepunjabwire
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
error: Content is protected !!