सुजानपुर के कोविड़-19 संक्रमित मरीज की मौत। पंजाब में मरने वालों का आंकड़ा पहुंचा सात

पठानकोट के सुजानपुर से कोविड़-19 के पहले पाए गई महिला मरीज राज रानी की मौत हो गई है। इसी के साथ पंजाब में कोविड़-19 संक्रमित मरने वालों की संख्या सात हो गई।

उक्त महिला ने रविवार को सरकारी मेडिकल कालेज अमृतसर में दम तोडा। जिसकी पुष्टी अमृतसर की सिवल सर्जन डा प्रभजीत कौर जौहल तथा डिप्टी कमिशनर पठानकोट गुरप्रीत खैहरा ने की। कोविड़-19 संक्रमित महिला करीब 75 वर्ष की थी। हालाकि इस संबंधी महिला के परिवार ने फोर्टिस में ईलाज की लगाई थी गुहार थी। वहीं पठानकोट के डिप्टी कमिशनर गुरप्रीत खैहरा ने बताया कि उनके इलाज की हर संभव कौशिश की गई। परन्तु मरीज डायबिटक तथा अन्य बिमारियों से ग्रस्त था। उन्होने बताया कि संक्रमित मरीज के संपंर्क में आने वाले सभी लोगो को आईसोलेट किया गया है तथा अन्यों की तलाश की जा रही है।

जानकारी के मुताबिक कोरोना पीड़ित महिला 1 अप्रैल को सिविल अस्पताल में छाती के इन्फेक्शन और डायबिटीज की दवाई लेने आई थी। अस्पताल में उन्होंने चैक करवाया तो उसे इमरजेंसी में अन्य मरीजों के साथ 28 घंटे तक भर्ती रखा गया। इस दौरान इमरजेंसी के 3 डॉक्टरों, 10 के करीब स्टाफ और आसपास के मरीज उनके संपर्क में आए। इस दौरान उन्होंने पर्सनल प्रोटेक्टिव इक्विपमेंट किट (पीपीई) नहीं पहनी थी। हालत बिगड़ने पर जब उन्हें अमृतसर रैफर किया गया तो एंबूलेंस ड्राइवर भी संपर्क में आया। प्रशासनिक अधिकारियों की मानें तो उक्त लोगों के सैंपल 7 अप्रैल को लिए जाएंगे।

जानकारी के मुताबिक महिला के पति और बेटे की मोहल्ले में दुकान है। दूसरे बेटे का सब्जी मंडी में फॅारर्व्ड एजेंट का काम है। ऐसे में उनके संपर्क में कई लोग आए होने की आंशका जताई जा रही है। परिवार के लोगों की रिपोर्ट पॉजीटिव हुई तो एडीसी, एसएमओ और डीएसपी के नेतृत्व वाली टीम उन्हीं लोगों का पता लगाएगी।

रविवार दोपहर तक पीड़ित महिला के रिश्तेदार और करीबी मिलाकर कुल 30 लोगों के सैंपल अमृतसर भेजे गए हैं। सिविल अस्पताल में जो लोग पीड़िता के संपर्क में आए उनके सैंपल 7 अप्रैल को लिए जाएंगें। क्योंकि वायरस के लक्षण 3-4 दिनों बाद ही सामने आते हैं। 30 से अधिक लोगों को आइसोलेट किया गया है। -अभिजीत कप्लिश, एडीसी (जनरल)-कम-जांच टीम प्रमुख।

Coronavirus Update (Live)

Coronavirus Update

error: Content is protected !!