गांव राऊवाल में कोरोना वायरस का कोई संदिग्ध मरीज नही-डीसी इश्फाक

सिर्फ एहतियात के तौर पर सील किया गया था गांव राऊवाल, अफवाहों से सावधान होने की अपील 

अभी तक  जिले से  लिए गए 28 सैंपल, 25 नैगेटिव तथा 3 की रिपोर्ट पैंडिग

मनन सैनी 

गुरदासपुर। जिले में कोरोना वायरस को लेकर फैल रही अफवाहों पर विराम चिंह लगाते हुए गुरदासपुर के डिप्टी कमिशनर मोहम्मद इश्फाक ने बताया कि जिले में कोई पोजिटिव मरीज नही है। अभी तक कुल जिले में कुल 28 सैंपल जांच के लिए भेजे गए है। जिसमें से 25 नैगेटिव पाए गए है तथा 3 की रिपोर्ट का इंतजार है। डीसी ने कहा कि ब्लाक काहनूवान के गांव राऊवाल में कोरोना वायरस का कोई भी संदिग्ध मरीज नही है। बलकि गांव राऊवाल को सिर्फ एहतीयात के तौर पर सील किया गया था। 

डीसी इश्फाक ने बताया कि गांव राऊवाल में 16 मार्च को मसीह भाईचारे  की ओर से एक मेडिकल कैंप लगाया गया था। जिसमें डाक्टरों की टीम कैंप लगाने के बाद आगे किसी अन्य जिले में कैंप लगाने के लिए चले गई। मेडिकल कैंप लगाने वाली डाक्टरों की टीम के किसी भी सदस्य को कोरोना वायरस नही था।

जबकि कैंप लगाने वालों में एक युवक रोपड़ में कोरोना पाजिटिव के संपंर्क में आया था। सभी को क्वांरटीन करने का 14 दिन का समय पूरा हो चुका था। फिर भी स्वस्थ्य विभाग की ओर से एहतियात के तौर पर मेडिकल कैंप में भाग लेने वाले 60 व्यक्तियों, जिसमें मसीह भाईचारे के 49, गांव चक्क यकूब के 6, काहनूवान के 4 और गांव वडैच के 1 व्यक्तियों की एहतियात के तौर पर स्क्रीनिंग की गई है। जिसमें सभी की रिपोर्ट नैगेटिव है तथा कोई भी कोरोना वायरस का संदिग्ध नही पाया गया है।

वहीं उन्होने बताया कि तीन सिख ड्राईवर जिन्हे तबलीगी मरकज ने दिल्ली से ट्रांस्पोर्ट के लिए हायर किया था सभी को क्वारंटीन किया गया है। उनके नतीजों की रिपोर्ट का इंतजार है। फिलहाल सभी की हालत स्थिर है।   

डीसी ने कहा कि हमारे जिले में कोई भी अभी तक संदिग्ध मरीज नही आया है तथा उन्होने लोगो से प्रशासन का साथ देते हुए घरों में बने रहने की अपील की। उन्होने चेतावनी देते हुए कहा कि फेक न्यूज फैलाने वालों के खिलाफ प्रशासन सख्त कारवाई करेगा।

Coronavirus Update (Live)

Coronavirus Update

error: Content is protected !!