धारीवाल-घर के नीचे हाल में टहल रहे युवक की तेजधार हथियारों के साथ की गई हत्या, शरीर को बुरी तरह से काटा

अज्ञात के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज, अंधे कत्ल की गुत्थी सुलझाने में जुटी पुलिस  

गुरदासपुर, 24  दिसंबर (मनन सैनी) । घर के नीचे हाल में टहल रहे युवक की देर रात अज्ञात हत्यारों ने तेजधार हथियारों से शरीर पर कई वार कर बेरहमी से हत्या कर दी। घटना धारीवाल के गांव रणियां की है। उधर सूचना मिलने पर एसपी (डी) हरविंदर सिंह संधू, डीएसपी कुलविंदर सिंह, थाना धारीवाल के प्रभारी मनजीत सिंह ने भारी पुलिस फोर्स, डाॅग स्कवायड व फिंगर प्रिंट टीमों के साथ  मौके पर पहुंच कर मामले की गहनता से जांच पड़ताल शुरु कर दी। फिलहाल हत्यारों का पुलिस को पता नहीं चल पाया है। वहीं पीड़ित परिवार का कहना है कि उनकी किसी के साथ कोई दुश्मनी भी नहीं है। हालांकि पुलिस ने अज्ञात लोगों के विरुद्ध हत्या का मामला दर्ज कर लिया है। मृतक की पहचान जगदीप सिंह जग्गी (32) पुत्र सतपाल सिंह निवासी गांव रणियां के रुप में हुई है। मृतक गांव में ही खेतीबाड़ी का काम करता था।

मृतक के पिता सतपाल ने बताया कि रणिया -धारीवाल जीटी रोड पर उनका डबल स्टोरी मकान है। घर की नीचे एक हाल बनाया हुआ है। हाल का कुछ समय से शटर खराब होने के कारण वह बंद नहीं होता। उसका बेटा जगदीप सिंह ऊपर वाले पोरशन में रहता है। जगदीप को रोजाना आदत थी कि वह रात के समय खाना खाने के बाद हाल में टहलने आता था। गत बुधवार की रात्रि भी वह हाल में टहल के लिए करीब रात नौ बजे आया। लेकिन साढ़े तीन घंटे बीत जाने के बाद भी जगदीप अपने कमरे में नहीं गया। पहले तो जगदीप की पत्नी को ऐसा लग रहा था कि जगदीप उनके पास नीचे वाले कमरे में बैठा है। लेकिन जब उसने करीब साढ़े 12 बजे आवाज लगाई और कहा कि जगदीप को ऊपर भेज दीजिए। फिर वह हैरान रह गए कि वह तो उनके पास आया ही नहीं। पूरा परिवार घबरा गया और हाल में आकर जगदीप को ढूंढने लगे। जगदीप को पूरा परिवार हाल में आकर आवाजे लगाने लगा। लेकिन जगदीप ने उनकी आवाज का कोई जवाब नहीं दिया। हाल में अंधेरा था। फिर उसने टार्च जलाई और देखा कि जगदीप खून से लथपथ हाल में एक किनारे पर पड़ा हुआ था। 

उस समय जगदीप की सांसें चल रही थी। उन्होंने तुरंत जगदीप को सिविल अस्पताल गुरदासपुर भर्ती करवाया, लेकिन इलाज के कुछ समय बाद ही उसकी मौत हो गई। उन्होंने बताया कि जगदीप के शरीर पर किरच से वार किए हुए थे। शरीर की बुरी तरह से चीर फाड़ की गई थी। उन्होंने बताया कि उसके बेटे की चीखों की आवाज तक  उनके कानों में नही पड़ी। उनकी किसी के साथ कोई दुश्मनी नहीं है। लेकिन उसके बेटे की पता नहीं किस ने हत्या कर दी है। उन्होंने आरोपियों को सख्त से सजा दिलाने की मांग की है।

वहीं एसडी (डी)हरविंदर सिंह संधू ने बताया कि जगदीप सिंह जग्गी के हत्या के मामले में अज्ञात लोगों पर हत्या का मामला दर्ज कर लिया गया है। शव का सिविल अस्पताल से पोस्टमार्टम करवाकर शव को परिजनों को सौंप दिया है। उन्होंने बताया कि उनकी ओर से घटना स्थल का जायजा लेकर मामले की जांच पड़ताल शुरु कर दी है। जल्द ही इस हत्या की गुत्थी को सुलझा लिया जाएगा।

Thepunjabwire
  • 5
  • 27
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    32
    Shares
error: Content is protected !!