किसानों को गुमराह करने की राजनीती छोड़, जनता से किये वादे पूरे करें कैप्टन : शर्मा

मोदी का नारा ख़ुशहाल रहे किसान हमारा : अश्वनी शर्मा,

अश्वनी शर्मा के नेतृत्व में निकाली गई रैली को मिला हजारों किसानों का समर्थन 

पठानकोट : 4 अक्टूबर (मनन सैनी)। किसानों को केंद्र सरकार द्वारा संशोधित कृषि कानूनों के लाभों से जागरूक करवाने के लिए एक ट्रैक्टर रैली का आयोजन किया गया, जिसमें बड़ी मात्रा में ट्रैक्टरों सहित किसान इस रैली का हिस्सा बने I इस रैली का नेतृत्व प्रदेश भाजपा अध्यक्ष अश्वनी शर्मा ने किया I  इस अवसर पर उनके साथ पूर्व मंत्री मास्टर मोहन लाल, सुजानपुर के विधायक दिनेश बब्बू, भोआ से पूर्व विधायिका सीमा देवी, प्रदेश उपाध्यक्ष नरिंदर परमार, जिला भाजपा अध्यक्ष विजय शर्मा व् प्रदेश मीडिया सह-प्रभारी जनार्दन शर्मा  भी उपस्थित थे I

यह रैली मनवाल से शुरू होकर सुजानपुर, पठानकोट के विभिन्न बाजारों से होती हुई भोआ विधानसभा में पहुँच कर संम्पन्न हुई I अश्वनी शर्मा ने इस अवसर पर अपने संबोधन में कहाकि मोदी सरकार का एक ही नारा है कि ‘खुशहाल रहे किसान हमारा’  I  लेकिन कांग्रेस, आप व्  शिरोमणि  अकाली दल को किसानों का सशक्तिकरण तथा आय दोगुनी करने के लिए संशोधित कर पास किये गए तीनों कृषि कानून रास नहीं आ रहे और तह तीनों राजनितिक दल बिना किसानों के अपना विरोध कर रहे हैं  I

तीनों राजनितिक दलों का कहना है कि केंद्र सरकार द्वारा एमएसपी बंद कर दी जाएगी, जबकि केंद्र सरकार ने समय से पहले रबी की फसलों का एमएसपी बढ़ा कर जारी कर दिया है और मंडीकरण भी वैसे ही चल रहा है और किसान अपनी फसलें सरकारी एजंसियों को बेच रहे हैं।

अश्वनी शर्मा ने कहाकि तीनों राजनितिक दल प्रदेश की जनता में गिर चुकी अपनी साख बचाने के लिए सियासी ड्रामा कर रहे हैं, जबकि किसान उनके साथ किसी भी ड्रामे में नजर नहीं आ रहे I कैप्टन अमरिंदर सिंह अपनी तथा अपनी कांग्रेस सरकार की नाकामियों को छुपाने तथा जनता  का ध्यान भटकने के लिए कृषि कानूनों का सहारा लेकर किसानों के नाम का इस्तेमाल कर रही है I कैप्टन यह सियासी ड्रामा छोड़ कर अपने द्वारा किये गए वादों को पूरा करने का प्रयास करें जिनके दम पर वो सत्ता में आये थे और जहरीली शराब काण्ड में मारे गये 129 मासूम लोगों को इन्साफ देने का प्रयास करें, क्यूंकि यह राजनितिक हत्याएं हैं और इसकी सीधी जिम्मेवारी कैप्टन अमरिंदर सिंह की बनती है I       

अश्वनी शर्मा ने कहाकि पोस्ट-मैट्रिक स्कॉलरशिप घोटाले के आरोपी कैबिनेट मंत्री साधु सिंह धर्मसोत को क्लीनचिट दिए जाने पर आड़े हाथों लेते हुए कहाकि यह एक बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण  फैसला है I उन्होंने कहाकि दलितों की हितैषी बनने का दम भरने वाली वाली कांग्रेस आज उन्ही के वजीफे का पैसा खाकर चुप क्यों है ? कैप्टन बताएं कि वह इन्साफ देने की बजाय आरोपियों को क्यूँ बचा रहे हैं ?     इस अवसर पर महामंत्री विनोद धीमान, सुरेश शर्मा, विपन महाजन, अनिल वासुदेवा, अनिल रामपाल, शमशेर ठाकुर, नरिंदर सिंह पम्मी, रोहित पुरी, वरुण ठाकुर, बख्शीश सिंह, प्रदीप रैना, बिन्दा सैनी आदि उपस्थित थे 

Coronavirus Update (Live)

Coronavirus Update

error: Content is protected !!