संत नगर निवासी युवक की संदिग्ध हालातों में युवक की मौत, घरवालों ने जताई हत्या की आशंका, शरीर पर चोटों के निशान

श्रीनगर काम करता था युवक, चार साल की बेटी का बाप था मृतक, दोस्तों से बुधवार शाम को गांव उच्चा धकाला गया था गुरिंदर

गुरुवार को नही हुआ पोस्टमार्टम, पुलिस ने किया 174 के तहत मामला दर्ज

गुरदासपुर, 1 अक्तूबर (मनन सैनी)। दोरांगला के गांव उच्चा धकाला में संदिग्ध परिस्थितियों में एक युवक की मौत हो गई। मृतक के शरीर पर चोटो के निशान होने के चलते उनके परिजनों ने युवक की हत्या की आंशका व्यक्त की है। गुरुवार को पोस्टमार्टम न होने के चलते फिलहाल दोरांगला पुलिस ने 174 के तहत कारवाई की है। थाना प्रभारी का कहना है कि वह अपने स्तर पर जांच कर रहे है पोस्टमार्टम के उपरांत डाक्टरों की रिपोर्ट पर आगे कारवाई की जाएगी। मृतक की पहचान गुरिंदर सिंह पुत्र रघुबीर सिंह निवासी संत नगर मोहल्ला गुरदासपुर के रुप में हुई है। मृतक की उम्र करीब 30 साल है तथा उसकी एक चार साल की बेटी है।

मृतक की पत्नी गुरप्रीत कौर ने बताया कि उनका पैतृक गांव उच्च धकाला है परन्तु वह अब शहर में रहते हैं। उनका पति गुरिंदर सिंह श्रीनगर में काम करता है परन्तु लॉकडाउन के चलते ​पिछले काफी माह से यहीं पर है। अब उसने गांव उच्चा धकाला के रहने वाले कुछ अन्य दोस्तों के साथ श्रीनगर में काम करने के लिए जाना था। जिसके चलते उसके दोस्तों ने बुधवार की शाम को उसे गांव में बुलाया। वह पूरी रात घर नहीं लौटा और न ही उन्हें कोई फोन किया। जिसके चलते उन्हें काफी चिंता सताने हुई परन्तु उन्होने सोचा कि हो सकता है कि गुरिंदर अपने दोस्तों के घर रात रुक गया है।

परन्तु गुरुवार सुबह करीब सात किसी अनजान नंबर से फोन आया। जिसने बताया कि गुरिंदर गांव में एक विरान पड़े घर के एक कमरे में बेहोशी की हालत में पड़ा है। वह तुरंत गांव में पहुंचे और देखा कि गुरिंदर बेसुध हालत में पड़ा हुआ था और उसके शरीर पर काफी चोटें लगी है। खून भी बह रहा है जबकि गुरिंदर का मोटरसाइकिल भी साइड पर गिरा हुआ था। उस समय चेक करने पर उसकी सांसें भी चल रही थी।इसी दौरान गुरिंदर को सिवल अस्पताल गुरदासपुर लाया गया जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि गुरिंदर की हत्या उसके दोस्तों ने की है और उसे घर बुलाकर मारा गया है। घटना के बाद से सभी दोस्त मौके से फरार हैं। मृतक की माता अमरीक कौर ने भी पुलिस से न्याय की पुकार की है।

वहीं घटना की सूचना मिलने पर थाना दोरांगला के प्रभारी जसबीर सिंह मौके पर पहुंचे और शव को कब्जे में लेकर जांच शुरु कर दी है। थाना प्रभारी ने बताया कि मामला उलझा हुआ नजर आ रहा है। जिसकी गहनता से जांच की जा रही है। उन्होने बताया कि गुरुवार को मृतक का पोस्टमार्टम नहीं हो पाया जिसके चलते मृतक के पिता के ब्यानों पर फिलहाल 174 की कार्रवाई की गई है। ​शव का पोस्टमार्टम होने के उपरांत डाक्टरों की ​​रिपोर्ट आगे कारवाई की जाएगी।

error: Content is protected !!