गुरदासपुर में भाजपा को लगा बड़ा झटका, दिग्गज भाजपा नेता अकाली दल में शामिल

जिला प्रधान बब्बेहाली का कहना अभी भाजपा को दिखाया सिर्फ ट्रेलर, आगे दिखाएंगे पिच्चर, यही ट्रेलर देखेगें कांग्रेसी 

गुरदासपुर, 28 सितंबर (मनन सैनी) । कृषि कानून के विरोध में भाजपा के अंदर ही विरोध की लहरे तेजी से उठ रही है और भाजपा से जुड़े बड़े नेता तथा वर्कर भाजपा की नीतियों से हताश होकर भारतीय जनता पार्टी से ही किनारा कर रहे है। कृषि कानून के विरोध के चलते जहां  पंजाब में अकाली भाजपा गठबंधन टूटा वहीं इस गठबंधन के टूटने से दरारे निचले स्तर पर पहुंच रही है एवं भाजपा का झंडा थामने वाले हाथों ने अब अकाली दल का झंड़ा पकड़ लिया है।

सोमवार को सुखबीर सिंह बादल के आगमन पर भाजपा को उस समय बड़ा झटका लगा जब अकाली दल के जिला प्रधान गुरबचन सिंह बब्बेहाली की अध्यक्षता तले  नगर कौंसिल गुरदासपुर के प्रधान मनोज कुमार शैंपी, जगजीत सिंह जग्गी, जसबीर कौर, राम लाल (काला) सभी मौजूदा पार्षदों ने अकाली दल का दामन थाम लिया।  

इस मौके पर जिला प्रधान ने भाजपा को साफ संकेत देते हुए कहा  कि यह महज ट्रेलर है और पिच्चर अभी बाकि है। उन्होने कहा कि लोकसभा हलका गुरदासपुर में कोई भी सांसद अकाली दल के सहयोग के बिना नही बना। इतिहास जानता है कि कांग्रेसी उम्मीदवार सुखबंस कौर भिंडर यहां से पांच बार इसीलिए लगातार जीतती आई थी। बब्बेहाली ने कहा कि ऐसे ही पिच्चर आने वाले समय में कांग्रेसी भी देखेंगें। उन्होने वक्ररों से कहा कि किसानी जीवित है तो व्यापारी वर्ग तथा अन्य लोग जीवित है। इसलिए 1 अक्तूबर को सभी वर्कर रोष रैली को कुंभ में स्नान करने समान महत्वपूर्ण समझे।

error: Content is protected !!