अकाली दल द्वारा कांग्रेस सरकार के एसएएस नगर में शराब की होम डिलीवरी शुरू करने के प्रस्ताव की निंदा

मुख्यमंत्री को इस बुराई को जड़ से ही दबाने के लिए कहा

ऐसे प्रस्ताव के लिए मंत्री की भूमिका की जांच करवाने तथा अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की

चंडीगढ़/01फरवरीः शिरोमणी अकाली दल ने आज कांग्रेस सरकार के साहिबजादा अजीत सिंह नगर में शराब की होम डिलीवरी शुरू करने के प्रस्ताव की सख्त निंदा करते हुए कहा है कि घर घर रोजगार देने के वादे से भाग चुकी सरकार ‘घर घर शराब’ पहुंचाने की योजना बना रही है।

साहिबजादा अजीत सिंह नगर में एक पॉयलट प्रोजेक्ट के तौर पर शुरू करने की योजना बना रही सरकार के इस प्रस्ताव को बेहद शर्मनाक तथा लोगों की भावनाओं के विपरित करार देते हुए पूर्व मंत्री डॉ. दलजीत सिंह चीमा ने कहा कि सबसे पहली बात कि जिस तरह इस प्रस्ताव का प्रचार किया गया है, यह अपने आप कांग्रेस सरकार की मानसिकता बयान करता है। उन्होने कहा कि यह बेरहम सरकार अपने प्रियजनों के खजाने भरने के लिए कुछ भी कर सकती है, पर उन लाखों बेरोजगार नौजवानों की जिंदगी सुधारने के लिए एक भी काम नही कर सकती, जिनको सरकार द्वारा नौकरी दिए जाने तक 2500 रूपए प्रति महीना बेरोजगारी भत्ता देने का वादा किया था। उन्होने कहा कि नौकरी का वादा पूरा करने की जगह अब सरकार चाहती है कि युवा शराब का ऑनलाईन आर्डर करके अपने दुखों को नशे में डुबो दें। उन्होने कहा कि इससे न सिर्फ युवाओं में शराब की लत बढ़ेगी, बल्कि कानून-व्यवस्था की समस्या भी खड़ी होगी।

मुख्यमंत्री को इस बुराई को जड़ से दबा देने के लिए कहते हुए डॉ. चीमा ने उन अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की, जो इस प्रस्ताव को लागू करना चाहते हैं, जिससे न सिर्फ लोगों की भावनाओं को ठेस पहुंचेगी, बल्कि समाज में अराजकता भी फैलेगी। उन्होने कहा कि इस बात की जांच होनी चाहिए कि क्या यह फैसला साहिबजादा अजीत सिंह नगर के कांग्रेसी मंत्री को फायदा पहुंचाने के लिए लिया गया है, जोकि शराब का धंधा करता है। उन्होने कहा कि इस शर्मनाक प्रस्ताव की जांच करवाई जानी चाहिए, जोकि संविधान के भी खिलाफ है, जिसके बारे धारा 47 में स्पष्ट तौर पर लिखा है कि सरकार को नशा रोकने के लिए काम करना चाहिए। उन्होने कहा कि अफसोस की बात है कि हमारे यहां एक ऐसी सरकार है, जो न सिर्फ शराब पीने को प्रोत्साहित कर रही है, बल्कि इसने शराब की होम डिलीवरी को एक सरकारी नीति बना दिया है।

डॉ. चीमा ने कहा कि अकाली दल युवाओं को शराब की ओर धकेले जाने की इस नापाक साजिश को किसी भी कीमत पर कामयाब नही होने देगा। उन्होने कहा कि हम राज्य में शराब की होम डिलीवरी शुरू करने के खिलाफ एक आंदोलन शुरू करेंगे। उन्होने कहा कि सरकार को युवाओं से किए वादे पूरे करने पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए ना कि उनके भविष्य को पूरी तरह बर्बाद करने वाले कदम उठाने चाहिए।

Coronavirus Update (Live)

Coronavirus Update

error: Content is protected !!