छिटपुट घटनाओं को छोड़ जिला गुरदासपुर में शांतिपूर्ण हुआ मतदान, बटाला में तीन जगह हुआ टकराव, भाजपा के पूर्व जिला प्रधान का फटा सिर, फोटों तथा जानकारी के लिए पूरी खबर पढ़ें

जिले में अकाली -भाजपा ने लगाया कांग्रेस पर धक्केशाही करने के आरोप,

डीसी तथा एसएसपी ने शांतिपूर्वक चुनावों के लिए वोटरों तथा राजनितिक पार्टियों का धन्यवाद

मनन सैनी
गुरदासपुर, 14 फरवरी। जिला गुरदासपुर में छिटपुट घटनाओं को छोड़कर बाकी स्थानीय निकाय चुनाव शांतिपूर्ण संपन्न हुआ। जिसमें प्रशासन, पुलिस एवं सभी पार्टियों का अहम योगदान रहा। जिले की बटाला नगर निगम व छह नगर कौसिलों के लिए कुल 70 प्रतिशत वोटिंग हुई। जिसमें गुरदासपुर में 63.62 प्रतिशत, दीनानगर में 72.49 प्रतिशत, ​श्रीहर​गोबिंदपुर में 80 प्रतिशत, कादियां में 69.15 प्रतिशत, धारीवाल में 70 प्रतिशत, फतेहगढ़ चूड़िया में 67.50 प्रतिशत तथा बटाला में 65 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया। वोटिंग प्रक्रिया सुबह आठ बजे से लेकर शाम चार बजे तक चली। जिले के कुल 607 उम्मीदवारों की किस्मत ईवीएम मशीनों में बंद हो गई है। अब 17 फरवरी को इन मशीनों से प्रत्याशियों की जीत हार का फैसला होगा। वहीं एसएसपी राजिंदर सिंह सोहल तथा डीसी मोहम्मद इश्फाक ने सभी पार्टियों की ओर से दिए गए शांतिपूर्वक सहयोग के लिए सभी पार्टियों तथा वोटरों का धन्यवाद भी किया। उनका कहना था कि यह जो छोटी छोटी घटनाएं हुई है वह भी नही होनी चाहिए तभी हम शांतिपूर्वक लोकतंत्र के इस पावन पर्व का सम्मान कर सकते है।

कहां क्या क्या हुई घटनाएं

गुरदासपुर के जेल रोड पर थाना सिटी पुलिस ने अकाली वर्करों सहित उनकी चार गाड़ियां थाने में जब्त कर ली। पुलिस का कहना है कि लोगों की सूचना पर उक्त लोगों को चुनाव प्रक्रिया की शांति भंग करने के आरोप में पकड़ गया है। उधर मामले की सूचना मिलने पर अकाली दल के जिला प्रधान व पूर्व विधायक गुरबचन सिंह बब्बेहाली साथियों सहित थाना सिटी में पहुंच गए। बब्बेहाली ने कहा कि कांग्रेसियों द्वारा चुनाव प्रक्रिया में धक्केशाही की जा रही है। अकाली वर्कर वोट न डाल सकें, इसलिए उन्हे पुलिस से पकड़वाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि हर बूथ पर कांग्रेसी विधायक धक्केशाही करवा रहा है। हालाकि इस संबंधी थाना सिटी की पुलिस ने तीन ज्ञात तथा छह अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

वहीं गुरदासपुर की वार्ड नंबर 25 में भाजपा के उम्मीदवारों को बूथों के अंदर न घुसने देने के विरोध में भाजपा जिलाध्यक्ष परमिंदर सिंह गिल ने कांग्रेस के खिलाफ भड़ास निकाली। गिल ने कहा कि कांग्रेस हर वार्ड में भाजपाइयों के साथ धक्का कर रही है। उन्होंने साथियों को साथ लेकर कांग्रेस सरकार के खिलाफ नारेबाजी भी की। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की धक्केशाही सहन नहीं की जाएगी। उन्होने आरोप लगाया कि भाजपा के पोलिंग एजेंटों को पोलिंग स्टेशनों में बैठने से रोका गया तथा नारेबाजी की गई। जबकि अधिकारियों का कहना था पंजाब स्टेट चुनाव कमिशन की हिदायतों के अनुसार केवल वहीं पोलिंग एजेंट बन सकता है जो उस वार्ड का निवासी हो। इसी तरह 20 नंबर वार्ड में उम्मीदवारों की ओर से जाली वोट डालने के आरोप लगाए गए तथा वहां भी कुछ झड़प हुई। वहीं वार्ड नंबर 19 तथा 25 में भी शांतिपूर्वक चुनाव संपन्न हुआ। जिसे संवेदनशील बताया जा रहा था।

पुलिस जिला बटाला में तीन जगह हुई झड़पें, भाजपा के पूर्व जिला प्रधान का सिर फटा

बटाला की वार्ड नंबर 34 में कांग्रेसी व आजाद उम्मीदवार के समर्थकों में टकराव हो गया। वोटिंग शुरु होने के बाद पहले घंटे में ही वार्ड नंबर 34 के बूथ नंबर 76-77 में काग्रेंस से बागी होकर तृप्त राजिंदर सिंह बाजवा के धड़े से संबंझित चुनाव लड़ रहे आजाद उम्मीदवार हरजिंदर सिंह कलसी और पूर्व मंत्री अश्वनी सेखड़ी की बहन और काग्रेंसी उम्मीदवार नवीन सखड़ी के सर्मथकों में जाली वोटिंग को लेकर तकरारबाजी हुई तथा बात हाथापाई तक पहुंच गई। जिसमें काग्रेंसी सर्मथक हरमिंदर सिंह सैंडी की पगड़ी भी उतर गई। वहीं वार्ड नंबर 40 में भाजपा तथा काग्रेंसी सर्मथकों के बीच भी झडप हुई जिसमें भाजपा के पूर्व प्रधान सुरेश भाटिया का सिर फट गया। डीएसपी सिटी पर​विंदर कौर ने घटना के बाद मौके से लोगों को खदेड़ दिया और शांति बनाई रखने के लिए पुलिस ने सख्ती दिखाई। वहीं इसके इलावा वार्ड नंबर 13 में भी अकाली उम्मीदवार के सर्मथकों की ओर से एक वोटर के साथ हाथापाई करके उसकी पगड़ी उतार दी गई। अकाली उम्मीदवार का आरोप था कि उक्त व्यक्ति जाली वोटिंग कर रहा था।

एक आदि छोड़,अधिक में शांतिमय ढंग से हुई वोटिंग

जिले के अधिकतर हिस्सों में बड़ी ही शांतिमय ढंग से वोटिंग प्रक्रिया मुकम्मल हुई। हालांकि एक आदि जगहों पर छोटी मोटी घटनाएं देखने को मिली। लेकिन ज्यादातर एरिया में माहौल शांत रहा। लोगों ने भी वोटिंग प्रक्रिया में काफी उत्साह दिखाया। सबसे ज्यादा वोटिंग विधानसभा हलका श्रीहरगोबिंदपुर में हुई है।इन चुनावों में बुजुर्गों तथा नौजवानों में वोटिंग को लेकर काफी उत्साह रहा तथा विभिन्न पोलिंग स्टेशनों में काफी बुजुर्ग वोट डालते नजर आए।

वार्ड नंबर 19 में थर्मामीटर से की गई वोटरों की थर्मल चैकिंग

वार्ड नंबर 19 में थर्मल चैकिंग के लिए स्वस्थ्य विभाग की ओर से विशेश टीम तैनात की गई । जिसने हर आने वाले वोटर का तापमान चैंक करने के बाद अंदर जाने दिया।

हम सब साथ साथ हैं

चुनावों के दौरान एक खास बात वार्ड नंबर 20 में देखने को मिली। बेशक शुरुआती दौर में इस वार्ड के उम्मीदवारों को लेकर आपस में तनाव रहा हो। तथा सभी पार्टियों के उम्मीदवार एक दूसरे पर भड़कते तथा जाली वोट डालने के आरोप लगाते नजर आए। परन्तु चुनावी समय खत्म होने के उपरांत हीं उक्त सभी उम्मीदवार जिसमें कांग्रेसी उम्मीदवार संजीव कुमार बांटू, अकाली दल के उम्मीदवार गुलशन सैनी , भाजपा के उम्मीदवार अंकुश महाजन तथा आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार नरेश कुमार किसी भी चुनावी रंजिश से एकदम दूर सभी के साथ एकजुट नजर आए। सभी ने एक दूसरे को बधाई देते हुए खुद के साथ होने की बात कही तथा मिसाल कायम की।

वहीं गुरदासपुर के डिप्टी कमिशनर मोहम्मद इश्फाक तथा एसएसपी गुरदासपुर डाॅ राजिंदर सिंह सोहल की ओर से विशेश रुप से गुरदासपुर के लोगो तथा सामूहिक पार्टियों का शांतिपूर्वक चुनाव संपन्न करवाने के लिए धन्यवाद किया गया। उन्होने बताया कि छिटपुट घटनाओं को छोड़ पूरे जिले में पोलिंग अमन अमान से हुई है। जिसके लिए सभी लोग बधाई के पात्र है। जहां डीसी मोहम्मद इश्फाक ने बताया कि उनकी ओर से रिटर्निंग अफसरों को सख्त हिदायत दी गई थी कि किसी भी प्रकार की गड़बड़ नही होनी चाहिए। वहीं एसएसपी सोहल ने कहा कि उनकी ओर से सभी पुलिस पेट्रोलिंग टीमों को सख्ती से कहा गया था कि किभी भी प्रकार से कोई गड़बड़ी न हो।

वहीं गुरदासपुर की एसएमओं डाॅ चेतना ने बताया कि अस्पताल में चुनावीं हिंसा का कोई केस नही आया है।

Thepunjabwire
  • 23
  • 68
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    91
    Shares
error: Content is protected !!