शिरोमणी अकाली दल ने कहा कि मुख्यमंत्री नीरो की तरह व्यवहार कर रहे हैं, दिल्ली जा रहे किसानों पर जल तोपें मारी गई तथा दूसरी तरह शाही भोज आयोजत कर रहे हैं

कहा कि मुख्यमंत्री को सभी व्यवस्तताओं को रद्द कर यह सुनिश्चित करना चाहिए था कि किसानों के साथ निर्दयता पूर्ण व्यवहार न किया जाए: डाॅ. दलजीत सिंह चीमा

चंडीगढ़/25नवंबर: शिरोमणी अकाली दल ने आज कहा कि यह बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है कि जहां पंजाब के किसानों और उनके परिवारों पर कड़ाके की ठंड में दिल्ली जा रहे पानी की कैनन से हमला किया गया वहीं मुख्यमंत्री पूर्व मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू के लिए शाही भोज आयोजित कर रहे हैं।

पूर्व मंत्री डाॅ. दलजीत सिंह चीमा ने मुख्यमंत्री के अंसवेदनशील व्यवहार को शहनशाह नीरो के समान बताते हुए कहा कि यह बेहद चैंकाने वली बात है कि सभी व्यस्तताओं को रद्द करने और पंजाब के किसानों को हरियाणा पुलिस के हाथों बर्बर व्यवहार का शिकार बनने से रोकने की बजाय मुख्यमंत्री ने पूर्व मंत्री के लिए शाही दावत की मेजबानी करने का फैसला किया।

डाॅ. दलजीत सिंह चीमा ने कहा कि मुख्यमंत्री को पंजाब के लोगों के दर्द के प्रति ज्यादा संवेदनशील होना चाहिए। ‘आप निश्चित रूप से जानते हैं कि हरियाणा बार्डर पर रोके जाने के बाद कल हजारों किसानों ने ठंड के मौसम में सड़कों पर रात बिताई है। आज इन किसानों ने दिल्ली की ओर आगे बढ़ने की कोशिश करते हुए उनपर वाटर कैनन से हमला किया गया। उन्होने कहा कि ‘ मुख्यमंत्री के रूप में पंजाब के किसानों के साथ अत्याचार न हो यह सुनिश्चित करलने का प्रयास करना आपका कर्तव्य था। आपको इस मुद्दे का तुरंत केंद्र सरकार के पास उठाना चाहिए था। लेकिन आपने लंच मीटिंग की मेजबानी में व्यस्त रहने का निर्णय लिया’।

मुख्यमंत्री को अपनी आंखों के सामने हुई त्रासदी के बारे में बताते हुए डाॅ. दलजीत सिंह चीमा ने कहा कि मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को किसानों द्वारा उठाए गए मुद्दों को तुरंत केंद्र के समक्ष उठाना चाहिए। उन्होने कहा,‘ उन्हे न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) पर सरकारी खरीद सुनिश्चित करने की जरूरत को केंद के साथ उठाना चाहिए। मुख्यमंत्री को किसानों की अन्य सभी शिकायतों को भी केंद्र के पास उठाना चाहिए और स्वयं को पार्टी में व्यस्त रखने की बजाय वर्तमान संकट का समाधान करना चाहिए।

Thepunjabwire
  • 1
  • 6
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    7
    Shares
error: Content is protected !!